नैनीताल: लॉकडाउन ने किया पहाड़ की जैविक चाय का स्वाद फीका, हो रहा भारी नुकसान
Nainital News in Hindi

नैनीताल: लॉकडाउन ने किया पहाड़ की जैविक चाय का स्वाद फीका, हो रहा भारी नुकसान
लॉकडाउन ने किया पहाड़ की जैविक चाय का स्वाद फीका (फाइल फोटो)

श्यामखेत चाय बगान के प्रबंधक नवीन पाण्डे कहते हैं कि मार्च व अप्रैल में ओला गिरने से चाय (Tea) की खेती भी काफी हद तक खराब हुई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 23, 2020, 4:32 PM IST
  • Share this:
नैनीताल. उत्तराखंड (Uttarakhand) के पहाड़ अपनी सुन्दरता के लिये ही नहीं जाने जाते, बल्कि यहां की चाय ने विदेशों में भी अपनी महक बिखेरी है. मगर इस बार लॉकडाउन की मार यहां के चाय कारोबार पर भी पड़ी है. मौसम और लॉकडाउन ने चाय (Tea) के बागानों पर ऐसा असर डाला है कि जैविक चाय की चुस्की में मिठास कम हो रही है. नैनीताल में चाय का कारोबार करीब 50 लाख का है लेकिन मौसम की मार के बाद लॉकडाउन का सीधा असर चाय बागानों पर पड़ा है. 22 मार्च से बंद चाय के बागानों में अब चाय तोड़ने की अनुमति जरूर मिली है, मगर ग्रहकों की कमी से कारोबार पर संकट बना है. दूर तक फैले इन चाय बागानों में पहली क्रोप के पत्ते नहीं टूट सके तो इसका असर उत्पादन के साथ चाय के स्वाद पर भी पड़ने लगा है. चाय कारोबार पर पड़े बंदी के असर पर आगे भी संकट दिखने लगा है.

श्यामखेत चाय बगान के प्रबंधक नवीन पाण्डे बताते हैं कि करीब 50 लाख की चाय का कारोबार सालाना होता है. पर्यटन सीजन के दौरान पर्यटक यहां से चाय खरीदकर ले जाते हैं मगर इस बार लॉकडाउन के चलते पर्यटक नहीं हैं जिसके चलते कारोबार पर सीधे तौर पर असर पड़ा है. इससे साथ ही वह कहते हैं कि मार्च व अप्रैल में ओला गिरने से चाय की खेती भी काफी हद तक खराब हुई है.

कहां होता है चाय उत्पादन, कौन से देशों में है डिमांड
दरअसल जिले में धारी बेतालघाट और श्यामखेत में चाय का उत्पादन होता है जिसको श्यामखेत के इसी प्लांट में तैयार किया जाता है. पहाड़ की चाय एकदम जैविक है जिसके चलते इसकी डिमांड दक्षिण कोरिया, नीदरलैंड और जापान सहित अन्य देशों रहती है. इसके साथ ही पर्यटन सीजन में इस टी प्लांट से पर्यटक खूब चाय खरीदते हैं. टी बागान के सहायक प्रबंधक आईडी पाटनी का कहना है कि सभी प्लांटों से चाय आने लगी है और श्यामखेत में इसको तैयार किया जा रहा है मगर लॉकडाउन के चलते वो चाय को बाहर नहीं भेज पा रहे हैं जिसका नुकसान काफी है.



ये भी पढ़ें: जब चमोली में एक मकान से उठने लगा धुआं... लोगों ने साथ आकर बुझाई आग
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading