Home /News /uttarakhand /

ख़ौफ़-ए-कोरोना... नैनीताल में सड़क पर पड़े रहे 500 के कई नोट, किसी की हिम्मत नहीं हुई कि उठा ले

ख़ौफ़-ए-कोरोना... नैनीताल में सड़क पर पड़े रहे 500 के कई नोट, किसी की हिम्मत नहीं हुई कि उठा ले

मंगलवार को नैनीताल कोतवाली के पास 500-500 के कई नोट सड़क पर पड़े रहे लेकिन किसी में उन्हें उठाने की हिम्मत नहीं हुई.

मंगलवार को नैनीताल कोतवाली के पास 500-500 के कई नोट सड़क पर पड़े रहे लेकिन किसी में उन्हें उठाने की हिम्मत नहीं हुई.

मल्लीताल के पास 500 के 10 नोट गिरे देखे और अफ़वाह फैल गई कि कोरोना फैलाने के लिए नोटों को फेंका गया है.

नैनीताल. दुनिया भर ककी बड़ी आबादी ने कोरोना वायरस, कोविड-19, जैसी महामारी पहली बार देखी है. विशेषज्ञ बार-बार कह रहे हैं कोविड-19 से भी ख़तरनाक इसे लेकर बरती जा रही लापरवाही और अफ़वाहे हैं. अफ़वाह यह भी  है कि कोरोना वायरस फैलाने के लिए कुछ लोग नोटों पर थूककर उन्हें फेंक रहे हैं. इन अफ़वाहों में सच कितना है यह पता नहीं लेकिन इनका असर नैनीताल में भी दिखा. मंगलवार को नैनीताल कोतवाली के पास 500-500 के कई नोट सड़क पर पड़े रहे लेकिन किसी में उन्हें उठाने की हिम्मत नहीं हुई.

कोरोना फैलाने की अफ़वाह 

भूत-पिशाच, जानवर-आपदा का की कहानियां पहाड़वालों के लिए नई नहीं हैं लेकिन किसी वायरस का डर क्या होता है यह नैनीताल में पहली बार देखने को मिला. मंगलवार को नैनीताल पुलिस कोतवाली के पास 500-500 के 10 नोट सड़क पर पड़े रहे मगर इन्हें ठाने की हिम्मत कोई नहीं जुटा सका. लोगों में डर था कि कहीं इन नोटों से वह कोरोना जैसी महामारी मोल न ले लें.

वाकया मंगलवार दिन का है जब राहगीरों ने मल्लीताल के पास 500 के 10 नोट गिरे देखे. थोड़ी ही देर में लोगों की भीड़ इस जगह जुटनी शुरु हो गई. इस दौरान यह अफ़वाह फैल गया कि नैनीताल शहर में कोरोना फैलाने के लिए नोटों को फेंका गया है.

पुलिस ने रखे संभालकर 

सड़क पर नोट होने की खबर कोतवाली पुलिस को दी गई तो कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची और पैसों को सुरक्षित उठाकर उनको संभालकर रख दिया ताकि जिसके पैसे गिरे हैं, उसे लौटाए जा सकें.

कोतवाली के पास मिले 5,000 के नोटों को लेकर पर लोगों कई तरह की चर्चा रही. किसी का कहना था कि कोरोना संक्रमण फैलाने के लिए ये नोट फेंके गए हैं तो कोई कह रहा है कि किसी की जेब से पैसे गिर गए हैं और कोरोना के डर से यहीं पड़े रह गए.

मल्लीताल कोतवाल अशोक कुमार का कहना है कि पैसों को सुरक्षित तरिके से उठाकर कोतवाली में रखा गया है ताकि अगर कोई पैसे गिरने की सूचना लेकर आए तो उसे लौटाए जा सकें. हालांकि इस बात की भी चर्चा है कि अगर कोरोना संक्रमण जैसी बीमारी नहीं होती तो क्या ये पैसे ऐसे ही पड़े रहते?

Tags: Coronavirus in India, Lockdown. Covid 19, Nainital news, Uttarakhand news, Uttarakhand Police

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर