Home /News /uttarakhand /

नैनीताल: जंगलों की आग रोकने के लिए वन विभाग का प्लान, 300 वन प्रहरियों की होगी तैनाती!

नैनीताल: जंगलों की आग रोकने के लिए वन विभाग का प्लान, 300 वन प्रहरियों की होगी तैनाती!

जंगलों

जंगलों की आग रोकने के लिए 300 वन प्रहरी तैनात किए जाएंगे.

नैनीताल में वन विभाग की तरफ से वनाग्नि को रोकने के लिए एक प्लान तैयार किया गया है.

    उत्तराखंड अपने पर्वतीय क्षेत्रों में मौजूद घने जंगलों के लिए काफी मशहूर है. हरे-भरे वन यहां मौजूद वन्यजीवों के लिए भी बहुत महत्व रखते हैं. उत्तराखंड में गर्मियों के सीजन में इन वनों में लगने वाली आग (Forest Fire) आज एक बड़ी समस्या बनी हुई है.पिछले कुछ दशकों मेंइन जंगलों की ओर इंसानों का दखल काफी बढ़ा है. नैनीताल जिले की बात करें तो यहां भी हर सालहजारों हेक्टेयर के जंगलों में आग की समस्या विकराल रूप लेने लगी है. जिस वजह से इन जंगलों में रह रहे वन्य जीवों की दुनिया सिमटने लगी है. ऐसे में वन विभाग की तरफ से वनाग्नि को रोकने के लिए एक प्लान तैयार किया गया है.

    नैनीताल जिले के सभी रेंज अधिकारियों को अलग-अलग जंगलों में वन प्रहरी तैनात करवाने के निर्देश दे दिए गए हैं. इससे स्थानीय युवाओं को रोजगार मिलेगा.

    बताते चलें कि साल 2021 जंगलों की आग के लिहाज से काफी घातक साबित हुआ है. नैनीताल के पहाड़ों में फरवरी और मार्च के महीने में काफी भयंकर आग लगी थी. एसडीआरएफ ने एनडीआरएफ की टीम के साथ मिलकर आग पर बामुश्किल काबू पाया था.

    भविष्य में ऐसी घटना से निपटने के लिए ही यह योजना बनाई जा रही है.इसके लिए दिसंबर के महीने से ही कंट्रोल बर्निंग शुरू की जाएगी. भवाली क्षेत्र में मास्टर कंट्रोल रूम भी बनाया जा रहा है. अभी नैनीताल और आसपास में 76 क्रू स्टेशन मौजूद हैं. इन सभी के अलावा वन प्रहरी के लिए करीब 300 युवाओं को रखने का निर्णय लिया गया है.

    Tags: Nainital forest fire

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर