लड़की ने लड़का बनकर की दो शादी, चार साल बाद हुआ खुलासा

कृष्णा का भेद इतने लंबे समय तक इसलिए नहीं खुला क्योंकि उसने अपनी पत्नियों को न तो कभी अपना शरीर छूने दिया और न ही उनके सामने कभी कपड़े बदले.

ETV UP/Uttarakhand
Updated: February 15, 2018, 12:30 PM IST
लड़की ने लड़का बनकर की दो शादी, चार साल बाद हुआ खुलासा
धामपुर निवासी युवती ने लड़का बनकर दो लड़कियों से शादी की और उसका भेद चार साल बाद खुला
ETV UP/Uttarakhand
Updated: February 15, 2018, 12:30 PM IST
हिंदी फ़िल्मों की तर्ज पर एक लड़की लड़का बनकर घूमती रही और लोग उसे पहचान ही नहीं पाए. यहां तक कि उसने लड़ा बन कर शादी कर ली, वह एक एक नहीं दो. इसके बाद दहेज के लिए उन्हें प्रताड़ित किया और उनसे रुपये ठगे. पीड़ित लड़कियों की शिकायत पर चार महीने तक चली जांच के बाद बुधवार को पुलिस ने आरोपी लड़की को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया.

काठगोदाम पुलिस के अनुसार यूपी के धामपुर जिला बिजनौर निवासी युवती कृष्णा सेन (26) ने फेसबुक में लड़के की आईडी बनाकर काठगोदाम क्षेत्र निवासी एक युवती को प्रेम जाल में फांसा. 14 फरवरी 2014 को दोनों से गाजे-बाजे के साथ शादी रचाकर तिकोनिया क्षेत्र में किराए का घर लेकर रहना शुरू कर दिया. विवाह के बाद ही दोनों में अनबन रहने लगी.

इसी दौरान कृष्णा ने कालाढूंगी तहसील में बल्ब फैक्ट्री लगाने का झांसा देकर ससुरालियों से 8.50 लाख रुपये ऐंठ लिए. इस बीच कृष्णा ने 29 अप्रैल 2016 को कालाढूंगी निवासी एक और छात्रा को झांसा देकर शादी रचा ली. बाद में दोनों कथित पत्नियों को धमकाकर तिकोनिया स्थित घर में साथ ही रख लिया.

शक होने पर पहली शादी वाली युवती का भाई तिकोनिया से अपनी बहन को घर ले आया. अक्टूबर 2017 में काठगोदाम निवासी लड़की ने कृष्णा पर दहेज उत्पीड़न का मुकदमा दर्ज करा दिया. करीब चार महीने चली पुलिस की जांच के बाद मंगलवार रात को आरोपी कृष्णा को गिरफ्तार कर लिया.

दहेज उत्पीड़न का मुकदमा दर्ज होने पर जब पुलिस ने जांच के बाद कृष्णा को गिरफ्तार किया तो जेल जाने के डर से उसने सच बोल दिया. कृष्णा ने पुलिस के सामने कबूल किया कि वह पुरुष नहीं महिला है. यह सुनकर पुलिस के होश उड़ गए. मेडिकल जांच में उसकी बात सही निकली.

काठगोदाम एसएसआई संजय जोशी ने बताया कि दहेज उत्पीड़न की धाराओं को बदल कर धोखाधड़ी और फर्जी सरकारी दस्तावेज बनाने आदि का मुकदमा दर्ज कर आरोपी को कोर्ट में पेश किया. कोर्ट के आदेश पर उसे जेल भेज दिया गया है.

पुलिस के अनुसार कृष्णा का भेद इतने लंबे समय तक इसलिए नहीं खुला क्योंकि उसने अपनी पत्नियों को न तो कभी अपना शरीर छूने दिया और न ही उनके सामने कभी कपड़े बदले. खुद को पुरुष दिखाने के चलते वह शराब और सिगरेट पीती और बाइक में घूमती.

(हल्द्वानी से शैलेंद्र नेगी की रिपोर्ट)

 
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर