Haridwar Kumbh 2021: नैनीताल HC का बड़ा आदेश, अब रोजाना होंगे 50 हजार कोरोना टेस्ट

कुंभ मेले को लेकर हाईकोर्ट का बड़ा फैसला. (फाइल)

कुंभ मेले को लेकर हाईकोर्ट का बड़ा फैसला. (फाइल)

हरिद्वार कुंभ मेला 202: हाईकोर्ट ने कहा कि जिन लोगों ने वैक्सीन की पहली डोज लगवा ली है, उनके लिए भी कोरोना नेगेटिव रिपोर्ट (Corona Negative Report) जरूरी है.

  • Share this:
नैनीताल. नैनीताल हाईकोर्ट (Nainital High Court) ने उत्तराखंड सरकार को हरिद्वार कुंभ (Haridwar Kumbh 2021) को लेकर आदेश दिया है कि मेला क्षेत्र में रोजाना 50 हजार कोरोना टेस्ट किए जाएं. पार्किंग और घाटों के पास मोबाइल चिकित्सा वाहन तैनात किए जाने का आदेश भी हाईकोर्ट की ओर से दिया गया है ताकि श्रद्धालुओं को चिकित्सा सुविधा नजदीक मिले. इसके अलावा,

मेला क्षेत्र में हो क्वालिफाइड चिकित्सकों की तैनाती किए जाने की बात हाईकोर्ट ने अपने आदेश में कही है. कोर्ट ने कहा कि जिन लोगों ने वैक्सीन की पहली डोज लगवा ली है, उनके लिए भी कोरोना नेगेटिव रिपोर्ट जरूरी है.

इसके साथ ही कोर्ट ने कुंभ क्षेत्र में वैक्सीनेशन करने का आदेश दिया है. इसके अलावा,

घाटों और कुंभ इलाके में जल पुलिस की तैनाती करने का आदेश तीरथ सरकार को दिया है. कोर्ट ने
कहा कि केंद्र की SOP का सख्ती से पालन किया जाए. कोर्ट ने 13 अप्रैल तक रिपोर्ट मांगी है.

कुंभ मेले में कोरोना का खतरा

कुंभ मेला क्षेत्र में कोरोना के लगातार बढ़ते मामले मेला प्रशासन की चिंता बढ़ा रहे हैं. ऋषिकेश क्षेत्र के ताज होटल में 83 और हरिपुर कलां के गीता कुटीर आश्रम में 32 कोरोना के मरीज मिलने के बाद हड़कम्प मचा हुआ है. दोनों ही हॉटस्पॉट कुम्भ मेला क्षेत्र में आते हैं, इसलिए महाकुंभ पर भी कोरोना संकट मंडराने लगा है. भूपतवाला के गीता कुटीर में 32 कोरोना संक्रमित एक साथ मिलने के बाद आश्रम को सील कर दिया गया है. कुंभ मेला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. अर्जुन सिंह सेंगर का कहना है कि कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए टेस्टिंग की संख्या बढ़ा दी गई है. 12 अप्रैल के शाही स्नान से पहले श्रद्धालुओं का आगमन शुरू हो गया है. जिन श्रद्धालुओं में बीमारी के संदिग्ध लक्षण हैं, उनकी स्क्रीनिंग पर विशेष ध्यान दिया जाएगा और उनका टेस्ट जरूर कराया जाएगा. उन्होंने कुंभ मेला क्षेत्र में सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क आदि कोरोना गाइडलाइंस का भी सख्ती से पालन कराने की बात कही है.



ये भी पढ़ें: उत्तराखंड सरकार का बड़ा फैसला, इन 12 राज्यों से आने वालों के लिए कोरोना नेगेटिव रिपोर्ट जरूरी, वरना नहीं मिलेगी एंट्री

शाही स्नान की तैयारी

हरिद्वार  में महाकुंभ की धूम जारी है. देश-विदेश से करोड़ों श्रद्धालु इन दिनों हरिद्वार में महाकुंभ  स्नान के लिए पहुंच रहे हैं. वैसे तो कुंभ के महीनों में कभी भी आप मां गंगा में डुबकी लगा पुण्य की भागीदारी बन सकते हैं. लेकिन कुछ तिथियां इतनी खास  होती हैं कि जिन पर स्नान करने का अपना ही विशेष महत्व होता है. इसलिए न्यूज18 आपको वो तिथियां बताने जा रहा है जिस दिन स्नान से आपको कई जन्मों का पुण्य हासिल हो जाएगा. खास बात ये है कि इन तिथियों का 12 वर्षों तक हिंदू धर्म को मानने वाले लोगों को इंतजार रहता है. अप्रैल मास में ऐसे पांच स्नान हैं जिन्हें विशेष स्नान का दर्जा हासिल है. मेले की तैयारियों में लगे उप मेला अधिकारी हरबीर सिंह के मुताबिक, विशेष स्नान की पांच तारीखें तय हैं. जिनमें से तीन शाही स्नान हैं. इनकी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं. कोविड गाइड लाइन का पालन करते हुए इन स्नानों को कराया जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज