लाइव टीवी

Good News: 10 साल बाद नैनी झील में रिकार्ड पानी, नहीं होगा इस बार गर्मियों में जल संकट
Nainital News in Hindi

News18 Uttarakhand
Updated: March 13, 2020, 3:56 PM IST
Good News: 10 साल बाद नैनी झील में रिकार्ड पानी, नहीं होगा इस बार गर्मियों में जल संकट
टूरिस्ट के आकर्षण का केंद्र होने के साथ-साथ यहां के लोगों की प्यास भी बुझाती है नैनी झील

पिछले सालों में नैनीताल की नैनी झील (Naini lake) के गिरते जल स्तर को लेकर गर्मी में चिंता बढ़ने लगी थी मगर इस बार उम्मीद जताई जा रही है कि यहां पानी का संकट (water crises) नहीं होगा.

  • Share this:
नैनीताल. पहाड़ में मौसम भले ही अब भी सर्द (cold weather) बना हुआ है और लगातार बारिश (rainfall) से लोगों को परेशानी भी हो रही है मगर इस बार ये बारिश नैनीताल (Nainital) के लिये सुखद है. पिछले सालों में नैनीताल की नैनी झील (Naini lake) के गिरते जल स्तर को लेकर गर्मी में चिंता बनने लगी थी मगर इस बार उम्मीद जताई जा रही है कि यहां पानी का संकट (water crises) नहीं होगा. इस बार सर्दी में लगातार बारिश ने नैनी झील की रंगत लौटा दी है. 2010 के बाद झील के जल स्तर ने 10 सालों का रिकार्ड़ तोड़ा है. मार्च महीने में पानी का स्तर 6 फीट बने रहने से गर्मी की चिंता दूर हो गई है. बता दें कि साल 2014-15 में जलस्तर 5 फीट बना रहा तो वहीं साल 2016 में झील में पानी माइनस 1 फीट पर पहुंच गया था.

पिछले सालों में जल स्तर और वर्षा का हाल कुछ ऐसा रहा-
साल जल स्तर फीट में वर्षा
2017 -1.90 3365mm



2018 2 3294mm
2019 5.29 2183mm


मार्च 2020 5.96 1590mm

41 हजार लोगों की प्यास बुझाती है नैनी झील
दरअसल नैनीताल के लगभग 41 हजार परिवारों की प्यास इसी झील से बुझाई जाती है और गर्मी के दौरान ये आंकड़ा दोगुना हो जाता है. साल 2017 में झील में पानी का संकट दिखा तो झील में डेल्टा (Delta) उभर गए जिसके बाद पानी की सप्लाई में कटौती कर पानी की खपत को 18 एमएलडी से 9 एमएलडी कर दिया गया. बावजूद इसके झील को रिचार्ज करने वाले जोन पर अवैध कब्जा हटाने की दिशा में कोर्ट के आदेश के बाद भी कोई काम नहीं हो सका है और रिचार्ज जोन (water recharge zone) में अतिक्रमण चलता रहा.

नैनीताल को बचाने में जुटे अधिवक्ता व पर्यावरणविद् राजीव बिष्ट (Environmentalist Rajiv Bisht) बताते हैं कि सिर्फ मौसम की वजह से मिली राहत से उत्साहित होना ठीक नहीं है हमें नैनी झील को बचाने के लिये सूखाताल झील व आस पास के कैचमेंट इलाकों को बेहतर करना होगा और झील में पानी लाने वाले जल स्रोतों को बचाना होगा. सिंचाई विभाग के अधिशासी अभियंता हरीश चन्द्र ने बताया कि 2017 में चिंता झील को बचाने की थी क्योंकि उस दौरान झील में काफी डेल्टा बन गये थे जिसके बाद शहर में पानी की कटौती कर झील के जल स्तर को बनाए रखने में मदद मिली लेकिन इस बार बारिश और स्नोफाल से मिले सुखद परिणामों से गर्मी में पानी का संकट झील में नहीं दिखेगा.

ये भी पढ़ें- बर्फ़बारी के बाद भी सफल सत्र के लिए स्पीकर ने जताया MLA, कर्मचारियों का आभार
उत्तराखंड के होली स्वांग में इस बार हिट है Covid-19, महिलाएं खेल रहीं कोरोना-कोरोना


News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए नैनीताल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 13, 2020, 3:54 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading