Home /News /uttarakhand /

madhu gram in nainital jeoli honey village localuk

Nainital: शहद की वजह से ज्‍योली गांव बना 'मधु ग्राम', अमेरिका से लेकर ब्रिटेन तक है मांग

नैनीताल जिले के ज्योली गांव के शहद की दुनियाभर में डिमांड है. जबकि गांव के रहने वाले लोग प्रति वर्ष करीब 300 कुंतल शहद का उत्पादन करने के साथ इसे 500 रुपये प्रति किलो के हिसाब से बिक्री कर आर्थिक रूप से समृद्ध हो रहे हैं.

    (रिपोर्ट- पवन सिंह कुंवर)

    नैनीताल. उत्तराखंड के नैनीताल जिले का ज्योली गांव शहद के लिए दुनियाभर में प्रसिद्ध है. हल्द्वानी शहर से करीब 20 किलोमीटर दूर (नैनीताल मार्ग पर) यह गांव स्थित है. इस गांव के शहद की डिमांड देश-विदेश तक है, क्‍योंकि यहां का शहद 100 फीसदी ऑर्गेनिक होता है. यही नहीं, गांव के ज्यादातर लोग मधुमक्खी पालन से जुड़े हैं, जिस वजह से इस गांव का नाम अब मधु ग्राम (Madhu Gram) पड़ गया है.

    बहरहाल, आज 100 परिवार वाले मधु ग्राम में करीब 90 परिवार मौनपालन कर स्वरोजगार को बढ़ावा दे रहे हैं. यहां के ग्रामीण प्रति वर्ष करीब 300 कुंतल शहद का उत्पादन कर औसत 500 रुपये प्रति किलो के हिसाब से बिक्री कर आर्थिक रूप से समृद्ध हो रहे हैं. वहीं, अब डिजिटल मार्केटिंग के माध्यम से यहां के शहद की मांग अमेरिका, ब्रिटेन और कतर तक से आने लगी है.

    युवाओं ने मधुमक्खी पालन को बनाया अपना रोजगार
    बता दें कि मधु ग्राम में शहद को फ्लेवर युक्त भी बनाया जाता है. शहद 15 दिन में बनकर तैयार हो जाता है. सालाना एक डिब्बे से 30 किलो शहद मिल जाता है. यहां के शहद में एक प्रतिशत भी मिलावट नहीं होती है. जबकि गांव के ज्यादातर युवाओं ने मधुमक्खी पालन को अपना रोजगार बनाया है. अगर आप इस गांव से शहद मंगवाना चाहते हैं, तो नीचे दिए गए नंबरों पर संपर्क कर सकते हैं.
    भुवन पांडे- 9536246801
    मनोज पांडे- 8218265415
    दिनेश पांडे- 9870655546

    Tags: Nainital news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर