अपना शहर चुनें

States

अव्यवस्था! स्टूडेंट्स को समय से किताब नहीं दे पा रही ओपन यूनिवर्सिटी

उत्तराखंड ओपन यूनिवर्सिटी में दिसंबर तक 75 हज़ार स्टूडेंट ने एडमिशन लिया लेकिन सूत्रों की मानें तो यूनिवर्सिटी इनमें से महज नौ हज़ार स्टूडेंट्स को ही किताब दे पाई है.
उत्तराखंड ओपन यूनिवर्सिटी में दिसंबर तक 75 हज़ार स्टूडेंट ने एडमिशन लिया लेकिन सूत्रों की मानें तो यूनिवर्सिटी इनमें से महज नौ हज़ार स्टूडेंट्स को ही किताब दे पाई है.

इस बार विंटर सेशन में रिकॉर्ड 75 हज़ार स्टूडेंट ने एडमिशन लिया है. इसलिए इन्हें मैनेज करना थोड़ा चुनौती है.

  • Share this:
हल्द्वानी. प्रदेश में दूरस्थ यानी ओपन एजूकेशन के लिए बनाई गई उत्तराखंड ओपन यूनिवर्सिटी में अव्यवस्थाओं का आलम देखने को मिल रहा है. यूनिवर्सिटी ने बड़े ज़ोर-शोर से हज़ारों स्टूड्टेंस के एडमिशन तो ले लिए लेकिन यूनिवर्सिटी इन स्टूडेंट को किताब नहीं दे पा रही. आलम यह है कि यूनिवर्सिटी में एडमिशन लेने वाले 75 हज़ार स्टूडेंट को समय से किताबें नहीं मिल पा रही हैं. ऐसे में यूनिवर्सिटी प्रशासन पर सवाल उठ रहे हैं. हालांकि यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर प्रोफ़ेसर ओम प्रकाश सिंह नेगी की अपनी दलील है. प्रोफ़ेसर नेगी कहते हैं कि हर साल एडमिशन अगस्त कर चलते थे लेकिन इस बार 25 दिसंबर कर एडमिशन हुए हैं. इसलिए किताबें भेजने में देरी दिख रही है.

बिना किताबें कैसे देंगे परीक्षाएं

उत्तराखंड ओपन यूनिवर्सिटी में दिसंबर तक 75 हज़ार स्टूडेंट ने एडमिशन लिया लेकिन सूत्रों की मानें तो यूनिवर्सिटी इनमें से महज नौ हज़ार स्टूडेंट्स को ही किताब दे पाई है. ऐसे में ओपन सिस्टम के ज़रिए डिग्री लेने और पढ़ाई करने का सपना पाले बैठे स्टूडेंट्स को परेशानी का सामना कर पड़ रहा है क्योंकि परीक्षाएं आने वाली हैं. साथ ही उन्हें प्रोजेक्ट और रिसर्च पेपर भी बनाने हैं.



ऐसे में बिना किताब स्टूडेंट ये सब कैसे करेंगे ये अपने आप में बेहद गंभीर सवाल है. पत्रकारिता कोर्स में अक्टूबर महीने में एडमिशन लेने वाले शंकर के मुताबिक उन्हें दो महीने से किताबें नहीं मिली हैं. यही हाल अन्य कोर्सों के स्टूडेंट्स का भी है.
यूनिवर्सिटी को नहीं दिख रही देर

प्रोफ़ेसर नेगी के मुताबिक किताबें भेजने में कोई देरी नहीं हुई है. उनका दावा है कि एडमिशन लेने वाले आधे स्टूडेंट्स को किताबें पहुंचाई जा चुकी हैं. वाइस चांसलर के मुताबिक देरी से ए़डमिशन लेने वाले स्टूडेट्स को स्टडी सेंटर से स्टूडेंट्स की सही-सही संख्या का पता लगाकर किताबें भेजी जा रही हैं. यह काम अगले एक महीने में पूरा कर लिया जाएगा.

उत्तराखंड ओपन यूनिवर्सिटी में इस बार विंटर सेशन में रिकॉर्ड एडमिशन हुए हैं. कुलपति प्रोफ़ेसर ओम प्रकाश सिंह नेगी के मुताबिक इस बार 75 हज़ार स्टूडेंट ने एडमिशन लिया है. इसलिए इन्हें मैनेज करना थोड़ा चुनौती है. माना जा रहा है कि कोरोना लॉकडाउन के दौरान ओपन यूनिवर्सिटी की तरफ स्टूडेंट्स का रुझान बढ़ा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज