होम /न्यूज /उत्तराखंड /नैनीताल की रामलीला में जब मेघनाद बनकर गरजते हैं मिथिलेश पांडे, थम जाती हैं दर्शकों की सांसें

नैनीताल की रामलीला में जब मेघनाद बनकर गरजते हैं मिथिलेश पांडे, थम जाती हैं दर्शकों की सांसें

Happy Dussehra: मिथिलेश पांडे बॉलीवुड के मशहूर अभिनेता रहे निर्मल पांडे (अब दिवंगत) के भाई हैं. मिथिलेश पांडे ने 'न्यूज ...अधिक पढ़ें

रिपोर्ट : हिमांशु जोशी

नैनीताल. रामायण में कई किरदार बेहद अहम हैं. इन्हीं में एक किरदार है रावण पुत्र मेघनाद. उत्तराखंड के नैनीताल में होनेवाली रामलीला में इस किरदार को पिछले 38 वर्षों से मिथिलेश पांडे बखूबी निभाते आए हैं. शारदीय नवरात्र के दौरान मल्लीताल स्थित रामसेवक सभा में आयोजित होनेवाली रामलीला में अपने अभिनय से सबका दिल जीतते हैं मिथिलेश पांडे.

बता दें कि मिथिलेश पांडे बॉलीवुड के मशहूर अभिनेता रहे निर्मल पांडे (अब दिवंगत) के भाई हैं. मिथिलेश पांडे ने ‘न्यूज 18 लोकल’ से कहा कि उन्होंने साल 1972 से अभिनय की शुरुआत की थी. इससे पहले रामलीला में लोगों को अभिनय करते हुए देख उन्हें भी रामलीला में पाठ खेलने की इच्छा हुई. शुरुआत में उन्होंने वानर सेना का किरदार निभाया. एक-दो साल बाद उन्हें महिला पात्र भी मिलने लगे.

मिथिलेश ने बताया कि उन्होंने रामलीला में तारा, सुनैना, मंत्री, विष्णु, शिव जैसे किरदार भी निभाए हैं. धीरे-धीरे उन्हें बड़े पात्र भी मिलने लगे. शूर्पणखा और सुलोचना के पात्र भी उन्होंने जीया है. साल 1984 में उन्हें पहली बार मेघनाद की भूमिका करने का अवसर मिला. तब से अब तक वे इस किरदार को बखूबी दर्शकों के सामने पेश करते आ रहे हैं.

उन्होंने बताया कि मेघनाद का किरदार निभाना उनके लिए गर्व की बात है. मेघनाद एक ऐसा किरदार है, जो वीर रस झलकाता है. रामलीला में लक्ष्मण शक्ति के दौरान उनके इस किरदार को देखने के लिए दर्शकों में भी काफी उत्साह रहता है. सरोवर नगरी की रात की रामलीला काफी पसंद की जाती है. इसे देखने के लिए अन्य शहरों से भी लोग आते हैं.

Tags: Nainital news, Ramlila, Uttarakhand news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें