• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttarakhand
  • »
  • नैनीताल में दो सड़क हादसों में एक मौत, 5 घायल, 200 फीट गहरी खाई में गिरी कार

नैनीताल में दो सड़क हादसों में एक मौत, 5 घायल, 200 फीट गहरी खाई में गिरी कार

नैनीताल सड़क हादसे के दौरान स्थानीय लोगों के साथ मिलकर पुलिस ने किया रेस्कयू.

नैनीताल सड़क हादसे के दौरान स्थानीय लोगों के साथ मिलकर पुलिस ने किया रेस्कयू.

उत्तराखंड में इस साल अगस्त के महीने की बारिश कहर साबित हुई. नैनीताल में हाईवे पर हुई दो सड़क दुर्घटनाओं में तीन लोग गंभीर रूप से घायल हैं, तो स्थानीय लोग SDRF से नाराज़. ये हादसे क्यों और कैसे हुए? ये भी जानिए.

  • Share this:

नैनीताल. उत्तराखंड में बारिश के कारण प्राकृतिक आपदाएं तो सुर्खियों में थीं ही, अब सड़क हादसों की भी खबरें आ रही हैं. नैनीताल में दो सड़क हादसों में एक की मौत हो गई जबकि 5 लोग घायल हुए हैं, जिनमें से दो ज़िंदगी और मौत के बीच संघर्ष कर रहे हैं. पहला हादसा अल्मोड़ा हाईवे पर हुआ, जिसमें ट्रक सोमवार सुबह तड़के खाई में गिर गया. दूसरा हादसा नैनीताल-हल्द्वानी हाईवे पर रुसी बाइपास के पास हुआ, जिसमें दिल्ली के पर्यटकों की गाड़ी पैराफिट तोड़कर 200 फीट गहरी खाई में गिर गई. बारिश के बाद बने हालात के कारण हुए सड़क हादसों के बारे में बताया गया कि एसडीआरएफ टीम बहुत देर से मौके पर पहुंची.

पहले सड़क हादसे में ट्रक के हेल्पर की मौत हो गई जबकि ड्राइवर गम्भीर रूप से घायल है. बताया जा रहा है कि ट्रक हल्द्वानी से अल्मोड़ा जा रहा था और निगलाट के पास बेकाबू होकर खाई में गिर गया. सूचना मिलने के बाद स्थानीय लोगों के साथ पुलिस ने रेस्क्यू कर घायल को अस्पताल भेजा, जहां उसकी हालत ​स्थिर बताई गई. वहीं दूसरे हादसे में दिल्ली के पांच लोगों के घायल होने की जानकारी मिली, जिनमें से दो बेहद गंभीर हालत में बताए गए.

कोहरा बना हादसों की वजह
दिल्ली की पालम कॉलोनी निवासी मुकेश कुमार, योगेश बघेल, महेन्द्र सिंह, अभिषेक गम्भीर रूप से घायल हुए. हांलाकि सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने सभी घायलों को बीडी पाण्डे ज़िला अस्पताल भेज दिया. दरअसल दोनों ही हादसों में बारिश के बाद कोहरा बड़ी बजह बना. स्थानीय युवा राम सिंह ने बताया कि कोहरे के दौरान ये चारों युवा नैनीताल से हल्द्वानी की तरफ आ रहे थे, तभी बस को ओवरटेक करने के चक्कर में गाड़ी की स्पीड ज्यादा थी, जिसके चलते गाड़ी सीधे खाई में जा गिरी.

रेस्क्यू हो गया तब मौके पर पहुंची SDRF
मौके पर SDRF के लेट पहुंचने पर स्थानीय लोगों में नाराजगी दिखी. तल्लीताल पुलिस फायर की टीम व स्थानीय लोगों ने राहत कार्य को जब अंजाम दे दिया और आखिरी घायल को भी सड़क किनारे तक लाया जा चुका था, तब कहीं एसडीआरएफ टीम मौके पर पहुंची. हांलाकि रेस्क्यू की कमान संभाल रहे तल्लीताल एसओ ने कहा कि स्थानीय लोगों की मदद से टाइम पर घायलों को अस्पताल भेज दिया गया. एसओ ने भी कोहरे और स्पीड को हादसों की वजह बताया.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज