Home /News /uttarakhand /

pashan devi temple have various belief localuk nodark

नैनीताल के इस मंदिर में देवी के दर्शन मात्र से भर जाती है सूनी गोद, मन्नत पूरी होने पर चढ़ाते हैं चंवर

Pashan Devi Temple Nainital: नैनीताल जिले के पदमपुरी में पहाड़ की चोटी पर पाषाण देवी का एक प्राचीन मंदिर है. मान्‍यता है कि इस मंदिर में देवी के दर्शन मात्र से महिलाओं की सूनी गोद भर जाती है.

    (रिपोर्ट- हिमांशु जोशी)

    नैनीताल. देवभूमि उत्तराखंड में ऐसे कई मंदिर हैं, जहां संतान की मनोकामना पूरी होती है. आज हम आपको नैनीताल जिले के पदमपुरी में स्थित ऐसे ही एक मंदिर के बारे में बताने जा रहे हैं. पहाड़ की चोटी पर पाषाण देवी का एक प्राचीन मंदिर (Pashan Devi Temple in Nainital) स्थित है. यह मंदिर एक गुफा के अंदर बना हुआ है. लगभग 1800 से 2000 मीटर की ऊंचाई पर स्थित इस मंदिर की काफी मान्यताएं हैं. माना जाता है कि इस मंदिर में देवी के दर्शन मात्र से संतान सुख की प्राप्ति हो जाती है.

    स्थानीय निवासी नीरज गुणवंत ने बताया कि यह मंदिर काफी साल पुराना है. वर्षों पहले जब एक महिला अपने बच्चे को लेकर पहाड़ से भाभर की ओर जा रही थी, तब अचानक उसका बच्चा उस मंदिर के स्थान से खाई में जा गिरा. रात में पाषाण देवी जब उस महिला के सपने में आईं, तो उन्होंने बताया कि उसका बच्चा नीचे चाफी के गांव में सुरक्षित है और अगले दिन उस महिला को उसका बच्चा मिल गया. तब से ही इस मंदिर की महत्वता और भी ज्यादा बढ़ गई.

    मां के दर्शन करने से मिलती है संतान
    इसके अलावा नीरज ने कहा कि यहां दर्शन करने के बाद जब भी किसी दंपति की संतान होती है, तो वह यहां दोबारा आकर माता को चंवर चढ़ाते हैं. चंवर एक टोकरी की तरह होता हैं, जिसमें बच्चे को रखा जाता है. इस मंदिर में समय-समय पर रामायण और भागवत का आयोजन किया जाता है. नवरात्रों में यहां विशेष पूजा-अर्चना और भंडारा आयोजित होता है. मंदिर में सुबह-शाम आरती होती है.

    Pashan Devi Temple in Nainital

    Tags: Hindu Temple, Nainital news, Nainital tourist places

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर