अमनमणि को लॉकडाउन में पास केस... पुलिस ने दी ACS ओमप्रकाश को क्लीन चिट, देहरादून ADM के सिर फोड़ा ठीकरा
Nainital News in Hindi

अमनमणि को लॉकडाउन में पास केस... पुलिस ने दी ACS ओमप्रकाश को क्लीन चिट, देहरादून ADM के सिर फोड़ा ठीकरा
यूपी के नौतनवा विधायक अमनमणि त्रिपाठी को 2 से 7 मई तक केदारनाथ व बद्रीनाथ का पास जारी किया गया था.

अमनमणि समेत अन्य पक्षकारों के आग्रह पर हाईकोर्ट ने जवाब दाखिल करने के लिए उन्हें 10 दिन का समय दिया है.

  • Share this:
नैनीताल. लॉकडाउन में यूपी के विधायक अमनमणि त्रिपाठी को काफ़िले समेत केदारनाथ-बदरीनाथ जाने के लिए स्पेशल पास के मामले में पुलिस ने अपर मुख्य सचिव ओमप्रकाश को क्लीन चिट दे दी है. ईकोर्ट में दाखिल अपने जवाब में पुलिस ने अपर मुख्य सचिव का बचाव करते हुए इस मामले का ठीकरा देहरादून के एडीएम पर फोड़ दिया और कहा कि पास एडीएम ने जारी किया था इसलिए गलती उनकी है. हालांकि अपर मुख्य सचिव ओमप्रकाश और अमनमणि समेत अन्य पक्षकारों ने जवाब दाखिल करने के लिए हाईकोर्ट से और समय मांगा जिस पर हाईकोर्ट ने उन्हें 10 दिन का समय दिया है.

स्पेशल पास 

बता दें कि यूपी के नौतनवा विधायक बाहुबली नेता अमरमणि त्रिपाठी के पुत्र अमनमणि को 2 से 7 मई तक केदारनाथ व बद्रीनाथ का पास जारी किया गया था. स्पेशल पास में तीन वाहनों में 11 लोगों को जाने की अनुमति दी गई थी. देहरादून के एडीएम ने यह पास अपर मुख्य सचिव ओमप्रकाश के निर्देश पर जारी किए थे.



इस मामले में राज्य सरकार के कोई कार्रवाई न किए जाने पर नैनीताल हाईकोर्ट में एक जनहित याचिका दायर कर केस की सीबीआई जांच की मांग की गई थी. इसमें कहा गया था कि अपर मुख्य सचिव, जो मुख्यमंत्री के सचिव भी हैं, ने अपने पद का दुरुपयोग करते हुए भारत सरकार की गाइडलाइन्स का उल्लंघन करए अमनमणि समेत 11 लोगों को स्पेशल पास जारी करवाया था.
याचिकाकर्ता ने इसकी शिकायत मुख्य सचिव और डीजीपी से लिखित शिकायत भी की थी लेकिन राज्य सरकार ने अपर मुख्य सचिव पर कोई कार्रवाई नहीं की. इसके बाद हाईकोर्ट में जनहित याचिका दायर कर इस मामले की सीबीआई जांच करवाने और दोषी पर कठोर कार्रवाई की मांग की गई थी.

कैसे जारी किया पास 

पिछली सुनवाई में हाईकोर्ट ने राज्य और केंद्र सरकार, अपर सचिव ओमप्रकाश, देहरादून समेत 4 ज़िलों के डीएम, विधायक अमनमणि त्रिपाठी समेत 21 पक्षकारों को नोटिस जारी किया था.

हाईकोर्ट ने राज्य सरकार से पूछा था कि जब भारत सरकार ने लॉकडाउन के दौरान किसी भी तरह के आवागमन और धार्मिक क्रियाकलापों पर रोक लगाई थी तो अपर मुख्य सचिव ओमप्रकाश ने किन परिस्थितियों में स्पेशल पास जारी किया? कोर्ट ने पक्षकारों को तीन हफ्तों में जवाब दाखिल करने का आदेश दिया था.

पुलिस की क्लीन चिट 

आज हाईकोर्ट में देहरादून के ज़िलाधिकारी और उत्तराखंड पुलिस महानिदेशक ने अपना जवाब दाखिल किया. पुलिस ने अपने जवाब में अपर मुख्य सचिव का बचाव करते हुए कहा कि स्पेशल पास एडीएम देहरादून ने जारी किया था, अपर मुख्य सचिव ने नहीं.

अमनमणि समेत अन्य पक्षकारों ने जवाब दाखिल करने के लिए कोर्ट ने और समय देने का आग्रह किया जिसे हाईकोर्ट ने स्वीकार कर लिया और 10 दिन का समय दे दिया. कोर्ट अब इस मामले में 7 जुलाई को सुनवाई करेगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज