• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttarakhand
  • »
  • पिता ने एक टूर पर थमा दिया था कैमरा, हुनर से मिली पहचान और मिला 'पद्मश्री' सम्मान

पिता ने एक टूर पर थमा दिया था कैमरा, हुनर से मिली पहचान और मिला 'पद्मश्री' सम्मान

अनूप

अनूप शाह को 2019 में पद्मश्री पुरस्कार से नवाजा गया था.

अनूप शाह ने फोटोग्राफी की कई राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में अपने हुनर का लोहा मनवाया है.

  • Share this:

    नैनीताल के मशहूर फोटोग्राफरों का जिक्र हो और अनूप शाह का नाम न लिया जाए, ऐसा हरगिज नहीं हो सकता. उन्होंने अपने हुनर के बल पर न सिर्फ उत्तराखंड बल्कि भारत का नाम रोशन किया है. अनूप का जन्म 4 अगस्त, 1949 को हुआ था. उन्हें साल 2019 में पद्मश्री पुरस्कार से नवाजा गया. उन्होंने बताया कि जब उन्हें इस सम्मान से नवाजे जाने के बारे में पता चला तो वह हैरान रह गए थे.

    अनूप शाह एक किस्सा साझा करते हुए बताते हैं कि एक बार उनके पिता ने यात्रियों के एक दल के साथ उन्हें पिंडारी भेज दिया था. पिता ने उन्हें एक कैमरा दिया. वह कई शानदार तस्वीरों के साथ वापस लौटे तो हर किसी ने उनके इस हुनर को सराहा और फिर अनूप ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा.

    अनूप शाह ने फोटोग्राफी की कई राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में अपने हुनर का लोहा मनवाया है. साल 1994 में इंडिया इंटरनेशनल फोटोग्राफिक काउंसिल IIPC ने उन्हें प्लैटिनम ग्रेड अवॉर्ड से नवाजा था. साथ ही वह साल 1990, 1995, 2001 और 2003 से 2005 तक इंडिया के टॉप 10 फोटोग्राफरों की फेहरिस्त में शामिल रहे. एक फोटोग्राफर होने के साथ-साथ अनूप एक माउंटेंनियर और पर्यावरण प्रेमी भी हैं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज