कुमाऊं विश्वविद्यालय के नाम पर बन रहे हैं फर्जी प्रमाणपत्र, ऐसे हुआ खुलासा

इस बार विश्वविद्यालय में फर्जी डिग्री तैयार कर विदेश पढ़ाई के लिए भेजने का मामला सामने आया है. अब तक मिली 50 डिग्रियों में से 12 के फर्जी होने की पुष्टि हो गई है.

Virendra Bisht | News18 Uttarakhand
Updated: December 29, 2018, 2:21 PM IST
कुमाऊं विश्वविद्यालय के नाम पर बन रहे हैं फर्जी प्रमाणपत्र, ऐसे हुआ खुलासा
कुमाऊं विश्वविद्यालय
Virendra Bisht | News18 Uttarakhand
Updated: December 29, 2018, 2:21 PM IST
उत्तराखंड का कुमाऊं विश्वविद्यालय एक बार फिर सवालों के घेरे में है इस बार विश्वविद्यालय में फर्जी डिग्री तैयार कर विदेश पढ़ाई के लिए भेजने का मामला सामने आया है. अब तक मिली 50 डिग्रियों में से 12 के फर्जी होने की पुष्टि हो गई है. विश्वविद्यालय में हुए इस फर्जीवाड़े के बाद अब विश्वविद्यालय प्रशासन आरोपियो पर एफआईआर दर्ज कराने की तैयारी कर रहा है.

दरअसल कनाडा उच्चायोग की ओर से वर्ल्ड एजुकेशन सर्विस के माध्यम से सत्यापन को भेजी गई कुमाऊं विवि की एक दर्जन डिग्री फर्जी निकली हैं. अधिकांश डिग्रीधारी पढ़ाई के लिए विदेश जाने वाले हैं.  इसमें डिप्लोमा इन मेकेनिकल इंजीनियरिंग, प्रोफेशनल एमबीए, बी टेक ऐसी डिग्री थी जो विवि द्वारा दी ही नहीं जाती है.

फर्जीवाड़े की हद ये है कि इन डिग्रियां में पूर्व कुलपति प्रो एचएस धामी को रजिस्ट्रार बताकर फर्जी दस्तखत किए गए हैं. जबकि निदेशक उच्च शिक्षा, असिस्टेंट रजिस्ट्रार परीक्षा के फर्जी हस्ताक्षर भी इन डिग्रियों पर हैं. साथ ही भी पूर्व कुलपति के फर्जी हस्ताक्षर भी इन डिग्रियों पर किए गए हैं.

ये भी पढ़ें- ऊधमसिंह नगर : एक ही दिन में तीन लोगों की हत्या से दहशत, पुलिस के हाथ खाली

ये भी पढ़ें- कर्णप्रयाग सामूहिक दुष्कर्म मामला: 5 जनवरी तक न्यायिक हिरासत में आरोपी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए नैनीताल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 29, 2018, 9:11 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...