Home /News /uttarakhand /

उत्तराखंड हाई कोर्ट ने पलटा CBI कोर्ट का फैसला, हत्याकांड में बाहुबली डीपी यादव को किया बरी

उत्तराखंड हाई कोर्ट ने पलटा CBI कोर्ट का फैसला, हत्याकांड में बाहुबली डीपी यादव को किया बरी

विधायक भाटी हत्याकांड में उत्तराखंड हाई कोर्ट का अहम फैसला.

विधायक भाटी हत्याकांड में उत्तराखंड हाई कोर्ट का अहम फैसला.

13 सितंबर 1992 को दादरी में विधायक महेंद्र भाटी की हत्या हुई थी, जिसमें पूर्व सांसद डीपी यादव समेत चार लोगों को आरोपी बनाया गया था. इस मामले में हाई कोर्ट में सुनवाई चल रही थी और इस साल कोर्ट से डीपी यादव को कई बार बेल भी मिल चुकी थी. इस साल बेल हालांकि मेडिकल ग्राउंड पर दी गई थी, जिसका उस वक्त सीबीआई ने​ विरोध भी किया था. जानिए क्या है पूरा मामला और कैसे इस मोड़ तक पहुंचा.

अधिक पढ़ें ...

नैनीताल. उत्तराखंड हाई कोर्ट ने एक बड़ा फैसला सुनाते हुए उत्तर प्रदेश के बाहुबली नेता डीपी यादव को हत्याकांड में बरी कर दिया. हाई कोर्ट ने सीबीआई कोर्ट के 2015 के फैसले को पलटते हुए यादव को बरी किया है. सीबीआई कोर्ट ने छह साल पहले यादव को दादरी के विधायक रहे महेंद्र भाटी की हत्या के केस में दोषी करार देकर आजीवन कारावास की सज़ा सुनाई थी. इस मामले में नैनीताल स्थित हाईकोर्ट में लगातार सुनवाई चल रही थी. हाई कोर्ट के फैसले से यादव को बड़ी राहत मिल गई है. लेकिन सीबीआई कोर्ट द्वारा दोषी माने गए अन्य तीन करण यादव, पाल सिंह और परनीत भाटी के संबंध में फैसला आना बाकी है.

भाटी हत्या कांड के मुख्य आरोपी डीपी यादव को हाई कोर्ट ने आज बुधवार को बरी कर दिया. डीपी यादव 1992 के दादरी के पूर्व विधायक महेंद्र भाटी हत्याकांड के मुख्य आरोपी थे और महेंद्र भाटी के बेटे ने आजीवन कारावास की सजा को बढ़ाने की मांग की थी. इधर, सीबीआई ने भी डीपी यादव को 120 बी का मुजरिम बनाया था, जिसको हाई कोर्ट ने नहीं माना है.

कैसे यहां तक पहुंचा केस?
13 सितंबर 1992 को गाज़ियाबाद के पूर्व विधायक महेंद्र भाटी की दादरी रेलवे क्रासिंग पर गोलियों से भूनकर हत्या कर दी गई थी. हत्या का आरोप डीपी यादव समेत परनीत भाटी, करण यादव, पाल सिंह पर था. पूरे मामले की सीबीआई ने जांच कर चार्जशीट कोर्ट में दाखिल की गई तो 15 फरवरी 2015 में देहरादून में सीबीआई कोर्ट ने सभी को दोषी मानते हुए आजीवन कारावास की सज़ा सुनाई थी. तबसे दोषी जेल में बंद हैं, इन सभी ने सीबीआई कोर्ट की सजा को हाई कोर्ट में चुनौती दी है जिस पर हाई कोर्ट ने सुनवाई कर फैसला सुरक्षित रखा था.

murder case, mla murder case, vidhayak hatya kand, up ke bahubali, uttarakhand high court faisla, हाई कोर्ट फैसला, high court faisa, dp yadav, डीपी यादव केस, हत्याकांड, विधायक हत्याकांड, aaj ki taza khabar, UK news, UK news live today, UK news india, UK news today hindi, UK news english, Uttarakhand news, Uttarakhand Latest news

उत्तराखंड हाई कोर्ट ने बाहुबली डीपी यादव को बरी किया.

मेडिकल ग्राउंड पर मिली थी शार्ट टर्म बेल
हाई कोर्ट में सुनवाई के दौरान डीपी यादव के वकील ने यादव को इलाज के लिए और टाइम की ज़रूरत बताते हुए बेल मांगी थी, जिसका सीबीआई ने विरोध किया. लेकिन कोर्ट ने यादव को नवंबर तक की शॉट टर्म बेल दे दी थी. यादव के वकील ने उसकी बैकबोन के ऑपरेशन की बात कहते हुए कोर्ट से कहा था कि उसे लगातार अस्पताल आना जाना पड़ेगा. हालांकि सीबीआई ने विरोध करते हुए कहा था कि जेल से इलाज दिया जा सकता है इसलिए बेल न दी जाए. इससे पहले भी इस साल कोर्ट 2 बार यादव को शॉट टर्म बेल दे चुका था.

Tags: Uttarakhand high court, Uttarakhand news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर