Home /News /uttarakhand /

vishwa bharati central university to built in 45 acres narendra modi pushkar singh dhami nodelsp

45 एकड़ में 150 करोड़ खर्च कर बनेगा विश्व भारती केंद्रीय विश्वविद्यालय: पुष्कर सिंह धामी

45 एकड़ में 150 करोड़ खर्च कर बनेगा विश्व भारती केंद्रीय विश्वविद्यालय.

45 एकड़ में 150 करोड़ खर्च कर बनेगा विश्व भारती केंद्रीय विश्वविद्यालय.

Nainital News: नैनीताल रामगढ़ का नाम एक बड़ी उपलब्धि से जुड़ गया है. रविन्द्र नाथ टैगोर की कर्मस्थली में अब विश्व भारती केंद्रीय विश्वविद्यालय की स्थापना होने जा रही है. उत्तराखंड के सीएम ने इसका रविवार को भूमिपूजन कर दिया है. राष्ट्रगान के रचयिता गुरुदेव रविन्द्र नाथ टैगोर की 161वीं जयंती के मौके पर ये कार्यक्रम आयोजित हुआ.

अधिक पढ़ें ...

नैनीताल. नैनीताल रामगढ़ का नाम एक बड़ी उपलब्धि से जुड़ गया है. रविन्द्र नाथ टैगोर की कर्मस्थली में अब विश्व भारती विश्वविद्यालय की स्थापना होने जा रही है. उत्तराखंड के सीएम ने इसका रविवार को भूमिपूजन कर दिया है. राष्ट्रगान के रचयिता गुरुदेव रविन्द्र नाथ टैगोर की 161वीं जयंती के मौके पर ये कार्यक्रम आयोजित हुआ. रामगढ़ में रविन्द्र नाथ टैगोर की कर्मस्थली में आयोजित इस कार्यक्रम के दौरान सीएम ने कहा कि यहां बनने वाला परिसर गीतांजलि के नाम से जाना जाएगा और ये क्षेत्र शिक्षा के लिए अग्रणी काम करेगा. इस दौरान सीएम धामी ने कहा कि आने वाला दशक उत्तराखंंड का है. यहां पर्यटन से लेकर शिक्षा स्वास्थ्य पर बेहतर काम होगा और लोग पहाड़ आयेंगे.

मुख्यमंत्री धामी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रामगढ़ में रवींद्रनाथ टैगोर विश्वविद्यालय के परिसर की स्थापना में अपनी रुचि व्यक्त की है. वह उत्तराखंड के लिए गर्व की बात है और इस सौगात से जहां विश्व भारती केंद्रीय विश्वविद्यालय उत्तराखंड को भारत के प्रमुख शिक्षा केन्द्र के रूप में स्थापित होने का अवसर प्राप्त होगा, वहीं स्थानीय युवाओं के लिए स्वरोजगार के नये अवसर उपलब्ध होंगे. यह राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय पर्यटकों एवं शोधार्थियों के लिए भी नया गंतव्य बनेगा.

कर्मभूमि रही है टैगोर की रामगढ़

गुरुदेव रविन्द्र नाथ टैगोर का जन्म 7 मई 1861 को जोड़ासांकू ठाकुरबाड़ी कोलकता में हुआ. साहित्य के लिये नोबल पुरस्कार पाने वाले टैगौर 1903 से 1913 तक तीन बार रामगढ आए और यहीं उन्होंने अपना आशियाना भी बनाया. यहां उन्होंने गीतांजलि के कुछ अंश की रचना की है तो तीन देश भारत श्रीलंका और बंगलादेश का राष्टगान भी लिखा. हांलाकि केन्द्र सरकार ने रामगढ़ में विश्वभारती विश्वविघायल की घोषणा की थी, जिसके बाद 45 एकड़ भूमि भी इसके लिये उपलब्ध करा दी गई है.

कार्यक्रम के दौरान सीएम ने कहा कि विश्व भारती की स्थापना के लिए प्रथम चरण में 150 करोड़ रुपये की डीपीआर केन्द्र सरकार में स्वीकृति की प्रक्रिया में है. उत्तराखंड सरकार द्वारा 45 एकड़ भूमि में विश्व भारती केंद्रीय विश्वविद्यालय के परिसर की स्थापना की औपचारिकता पूर्ण कर ली गई.

Tags: Nainital news, Narendra modi, Pushkar Singh Dhami, Uttarakhand news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर