Home /News /uttarakhand /

देश के 80 लाख कर्मचारियों का आह्वान, 15 नवंबर को करेंगे देशव्यापी हड़ताल

देश के 80 लाख कर्मचारियों का आह्वान, 15 नवंबर को करेंगे देशव्यापी हड़ताल

देश के 80 लाख कर्मचारियों का आह्वान, 15 नवंबर को करेंगे देशव्यापी हड़ताल

देश के 80 लाख कर्मचारियों का आह्वान, 15 नवंबर को करेंगे देशव्यापी हड़ताल

अखिल भारतीय कर्मचारी संघ के बैनर तले आगामी 15 नवंबर को देशव्यापी हड़ताल पर जाने का कर्मचारी संगठन ने आह्वान किया है.

उत्तराखंड समेत पूरे देश के 80 लाख कर्मचारियों ने सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. इसी के साथ अखिल भारतीय कर्मचारी संघ के बैनर तले आगामी 15 नवंबर को देशव्यापी हड़ताल पर जाने का कर्मचारी संगठन ने आह्वान किया है. इसी क्रम में नैनीताल में राज्य कर्मचारी संघ के सम्मेलन में कर्मचारियों ने सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा है कि राज्य में सरकार कर्मचारियों का उत्पीड़न कर रही है. अगर कर्मचारी अपनी मांगों के लिए हड़ताल पर जा रहे हैं तो सरकार हाई कोर्ट का सहारा ले रही है.

आंदोलन करने जा रहे कर्मचारियों की मांग है कि सरकार पुरानी पेंशन फिर से लागू करे और 20 लाख आउटसोर्स कर्मचारियों को नियमित करे.

मामले में अखिल भारतीय कर्मचारी संघ के अध्यक्ष सुभाष लांबा का कहना है कि कर्मचारियों से जुड़ी तमाम परेशानियों को लेकर वे पूरे देश में अभियान चला रहे हैं. इसी क्रम में आगामी 15 नवंबर को पूरे देश के 80 लाख कर्मचारी अपनी मांगों को लेकर राष्ट्रव्यापी हड़ताल करने जा रहे हैं.

उन्होंने कहा कि इसके बाद भी सरकीर अगर उनकी मांगें नहीं मानती है, तो केंद्र सरकार के कर्मचारी और राज्य सरकार के कर्मचारी मिलकर आंदोलन करेंगे. साथ ही तमाम सरकारी कामकाज ठप कर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले जाएंगे.

अखिल भारतीय कर्मचारी संघ के अध्यक्ष का कहना है कि ये देश सिर्फ कुछ पूंजीपतियों का ही नहीं है बल्कि गरीबों, मजदूरों और किसानों का भी है. इसलिए उनके बारे में भी सरकार को सोचना चाहिए.

ये भी पढ़ें:- हल्द्वानी में नर्सरी की छात्रा को छेड़ते थे स्कूल वैन के ड्राइवर-कंडक्टर, पोक्सो में केस दर्ज

लैंसडाउन फॉरेस्ट में दो दिवसीय बर्ड वॉचिंग टूर का आयोजन

Tags: Threatened to go on strike

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर