पनियाली गदेरे में अबतक 12 मौतों के बाद जागा प्रशासन, अतिक्रमण पर दिए ये निर्देश

कोटद्वार में पनियाली गदेरे की वजह से पिछले तीन सालों में हुई तबाही में 12 लोगों की मौत हो चुकी है. साथ ही करोड़ों की संपत्ति का नुकसान भी हुआ है.

Anupam Bhardwaj | News18 Uttarakhand
Updated: July 5, 2019, 3:18 PM IST
पनियाली गदेरे में अबतक 12 मौतों के बाद जागा प्रशासन, अतिक्रमण पर दिए ये निर्देश
मनीष कुमार, एसडीएम कोटद्वार
Anupam Bhardwaj
Anupam Bhardwaj | News18 Uttarakhand
Updated: July 5, 2019, 3:18 PM IST
कोटद्वार में पनियाली गदेरे की वजह से पिछले तीन सालों में हुई तबाही में 12 लोगों की मौत हो चुकी है. साथ ही करोड़ों की संपत्ति का नुकसान भी हुआ है. जान-माल का नुकसान होने के बाद अब जाकर प्रशासन को अतिक्रमण हटाने की होश आई है. प्रशासन की ओर से गदेरे पर हुए अतिक्रमणों की मार्किंग शुरू कर दी गई है. शहर के बीच से गुजरने वाले पनियाली गदेरे के 3 किलोमीटर के हिस्से में ही 300 से ज्यादा अतिक्रमण चिह्नित किए गए हैं. इनमें लाल निशान लगाने की कार्रवाई की जा रही है. साथ ही प्रशासन की ओर से लोगों को घर खाली करने की चेतावनी दी गई है. बता दें कि बारिश होने पर लोगों को गदेरों और नदियों से दूर रहने के लिए एनाउंसमेंट किया जाएगा.

लोगों को दिया गया सामान शिफ्ट करने का समय
इस बारे में एसडीएम कोटद्वार मनीष कुमार का कहना है कि आज निशान लगाने की कार्रवाई की जा रही है. उन्होंने कहा कि निशान लगाने का दो उद्देश्य है. पहला यह कि जहां निशान लगाया गया है वहां का व्यक्ति यह समझ जाए कि उसका मकान या उसका प्रतिष्ठान खतरे की जद में है. ऐसे में कभी भी जब बारिश का पानी बढ़ता है तब उन्हें वहां से शिफ्ट हो जाना होगा. दूसरा यह कि उनके द्वारा जो अतिक्रमण किया गया है उसे वे अपने हिसाब से तोड़ लें. लोगों को अपने सामान को शिफ्ट करने का समय दिया गया है.

उन्होंने कहा कि अगर ऐसा नहीं किया गया तब एक तिथि निर्धारित कर प्रशासन द्वारा अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई की जाएगी. साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि अभी बारिश को लेकर दो दिनों का हाईअलर्ट है. इसलिए अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई इन दो दिनों के दौरान नहीं की जाएगी.

ये भी पढ़ें - मॉनसून की बाधाओं से निपटने को तैयार है आपदा प्रबंधन विभाग

ये भी देखें - कोटद्वार में खाई में गिरा ट्रक, ड्राइवर-कंडक्टर की मौत
First published: July 5, 2019, 2:18 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...