महिलाओं से शराब विरोध से प्रशासन बदहवास, राजाजी में खुलवाई दुकान

Shalendra Rawat | News18India
Updated: August 11, 2017, 6:40 PM IST
महिलाओं से शराब विरोध से प्रशासन बदहवास, राजाजी में खुलवाई दुकान
Shalendra Rawat | News18India
Updated: August 11, 2017, 6:40 PM IST
महिलाओं के विरोध के आगे ऋषिकेश में शराब की दुकान खुलवाना पौड़ी प्रशासन के लिए टेढी खीर साबित हो रहा है. महिलाओं के भारी विरोध से बदहवास पौड़ी जिला प्रशासन ने नियमों के विरुद्ध राजाजी नेशनल पार्क में शराब की दुकान खुलवा दी.

जिलाधिकारी पौड़ी ने राजाजी पार्क प्रशासन के बिना अनुमति के शराब की दुकान पार्क में पड़ने वाले कुनाउ गांव में शिफ्ट करने का आदेश दे दिए. इस आदेश में शराब वर्जित क्षेत्र तीर्थनगरी ऋषिकेश से शराब की दुकान की दूरी का भी ख्याल नहीं रखा गया.

ऐसा पहली बार हो रहा है कि तीर्थनगरी से मात्र 2 किलोमीटर की दूरी पर शराब की दुकान खुलने जा रही है. प्रशासन के फैसले से तीर्थनगरी के धार्मिक लोग और ग्रामीणों के साथ ही पार्क प्रशासन भी अचम्भे में है.

दरअसल शराब की यह दुकान खिसकती-खिसकती यहां पहुंची है. मूल रूप से पौड़ी के चैलुसैण में शराब की दुकान के लिए टेंडर मांगे गए थे. लेकिन महिलाओं के विरोध के कारण प्रशासन ने शराब को दुकान को वहां से नोटखाल में शिफ्ट कर दिया.

वहां भी महिलाओं ने ज़ोरदार विरोध किया और इसके चलते प्रशासन वहां भी दुकान खुलवाने में नाकाम रहा. इसके बाद आनन-फानन में ज़िलाधिकारी पौड़ी और जिला आबकारी अधिकारी ने बिना राजाजी पार्क की अनुमति के नियम विरूद्ध शराब की दुकान कुनाउ गांव में शिफ्ट कर दी.

इसका ग्रामीण महिलाओं के साथ ही पार्क प्रशासन ने भी कड़ा विरोध करना शुरू कर दिया है. महिलाओं ने घमकी दी है कि अगर प्रशासन ने आदेश वापस नहीं लिया तो वे शराब की दुकान में आग लगा देंगी.

उधर पार्क प्रशासन का कहना है कि पार्क प्रशासन ने ज़िला प्रशासन ने कोई अनुमति नहीं ली है. इस बारे में पार्क के उच्चाधिकारियों को बता दिया गया है.

 
First published: August 11, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर