• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttarakhand
  • »
  • साढ़े तीन माह के लिए बंद होने वाला बद्रीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग खुला रहेगा

साढ़े तीन माह के लिए बंद होने वाला बद्रीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग खुला रहेगा

डीएम टिहरी ने हाईवे बंदी के निर्णय को स्थगित किया.

डीएम टिहरी ने हाईवे बंदी के निर्णय को स्थगित किया.

चारधाम सड़क परियोजना के तहत कठोर पहाड़ी चट्टानों को कंट्रोल ब्लास्टिंग के जरिए तोड़ने के लिए हाईवे को कौडियाला से देवप्रयाग के बीच साढ़े 3 माह के लिए रोज रात 10 बजे से सुबह 4 बजे तक बंद रखा जाना था.

  • Share this:
आज सोमवार की रात से साढ़े तीन माह के लिए बंद होने वाला बद्रीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग फिलहाल अग्रिम नए आदेश तक खुला रहेगा. इसपर आवाजाही की जा सकेगी. इस मामले पर मिले नए आदेश के बाद फिलहाल हाईवे बंद करने के निर्णय को स्थगित कर दिया गया है. पीडब्लूडी राजमार्ग खंड को डीएम टिहरी के मिले इस आशय के निर्देश के बाद फिलहाल 15 फरवरी तक बद्रीनाथ हाईवे पर रात में भी सफर किया जा सकेगा. 15 फरवरी को डीएम टिहरी सोनिका ने टिहरी में एसएसपी टिहरी, पीडब्लूडी एनएच के अधिकारियों और ठेकेदारों के साथ बैठक कर इस पर अगली तारीख तय करेंगी.

गौरतलब है कि चारधाम सड़क परियोजना के तहत कठोर पहाड़ी चट्टानों को कंट्रोल ब्लास्टिंग के जरिए तोड़ने के लिए हाईवे को कौडियाला से देवप्रयाग के बीच साढ़े 3 माह के लिए रोज रात 10 बजे से सुबह 4 बजे तक बंद रखा जाना था. रोज रात को 6 घंटों के लिए हाईवे बंद होने से इमरजेंसी तौर पर हाईवे से गुजरने वालों के लिए काफी दिक्कतें होने वाली थी. हालांकि बद्रीनाथ हाईवे बंद होने पर वैकल्पिक मार्गों से आवाजाही हो सकती थी. लेकिन इसमें 1 से 2 घंटे का अतिरिक्त समय लगता.

पीडब्लूडी एनएच द्वारा रोज रात 10 से सुबह 4 बजे तक हाईवे बंद करने का निर्णय लिया गया था, लेकिन पुलिस द्वारा इसका समय शाम को 8 से सुबह 6 बजे तक कर दिया गया था. बताया जा रहा है कि ऐसा पुलिस द्वारा भारी-भरकम वाहनों के कारण किया गया था, क्योंकि, भारी वाहनों की धीमी गति के कारण उन्हें कौडियाला से देवप्रयाग तक की दूरी तय करने में समय लगता. इससे जनसुरक्षा और हाईवे निर्माणकार्य में भी दिक्क्तें आतीं.

बहरहाल डीएम टिहरी के अचानक हाईवे बंदी के निर्णय को स्थगित करने के बाद लोकनिर्माण विभाग के राजमार्ग खंड की सारी तैयारियां धरी की धरी रह गईं. साढ़े तीन माह तक हाईवे बंद रहने के निर्णय के चलते डीएम और एसएसपी के आदेश पर हाईवे निर्माणकार्य और उसके बंद या खुले होने संबंधी सूचनाओं के लिए देवप्रयाग थाने में कंट्रोल रूम स्थापित किया गया है. यह कंट्रोल रूम इस संबंध में सभी सूचनाएं संबंधित क्षेत्रीय थानों को देने के साथ जिला पुलिस प्रशासन को भी देता.

हाईवे बंद रहने के दौरान गढ़वाल क्षेत्र के सबसे बड़े और रेफरल सेंटर राजकीय मेडिकल कॉलेज के बेस अस्पताल से इमरजेंसी में मरीज को हायर सेंटर रेफर करने के मद्देनजर भी व्यवस्था की गई
थी. इसके तहत बेस अस्पताल से मरीज को रेफर करने से पूर्व इस बारे में जानकारी सीएमओ टिहरी को दी जाती, जिसके बाद हाईवे को इमरजेंसी के दृष्टिगत एम्बुलेंस के लिए क्लियर किया जाता.

ये भी पढ़ें - अगले साढ़े तीन महीने 6 घंटे रोज़ बंद रहेगा बदरीनाथ हाईवे, ये हैं कारण

ये भी देखें - VIDEO: श्रीनगर गढ़वाल-बद्रीनाथ हाइवे पर पेड़ों के गिरने से घंटों लगा रहा जाम

Facebook पर उत्‍तराखंड के अपडेट पाने के लिए कृपया हमारा पेज Uttarakhand लाइक करें.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

 

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज