Home /News /uttarakhand /

उत्तराखंड की सियासत में मायावती का तड़का, जानें क्या कहा

उत्तराखंड की सियासत में मायावती का तड़का, जानें क्या कहा

उत्तराखंड विधानसभा में परीक्षा की घड़ी नजदीक आ गई है. फ्लोर टेस्ट में 24 घंटे से भी कम समय बचा है. लेकिन कांग्रेस सरकार में सहयोगी रही बसपा अपने पत्ते खोलने को तैयार नहीं है. बसपा सुप्रीमो मायावती ने दिल्ली में यह बयान देकर  सस्पेंस बना दिया कि फ्लोर टेस्ट में किसका साथ देना है और किसका नहीं, हमने अभी इस पर रणनीति नहीं बनाई है.

उत्तराखंड विधानसभा में परीक्षा की घड़ी नजदीक आ गई है. फ्लोर टेस्ट में 24 घंटे से भी कम समय बचा है. लेकिन कांग्रेस सरकार में सहयोगी रही बसपा अपने पत्ते खोलने को तैयार नहीं है. बसपा सुप्रीमो मायावती ने दिल्ली में यह बयान देकर सस्पेंस बना दिया कि फ्लोर टेस्ट में किसका साथ देना है और किसका नहीं, हमने अभी इस पर रणनीति नहीं बनाई है.

उत्तराखंड विधानसभा में परीक्षा की घड़ी नजदीक आ गई है. फ्लोर टेस्ट में 24 घंटे से भी कम समय बचा है. लेकिन कांग्रेस सरकार में सहयोगी रही बसपा अपने पत्ते खोलने को तैयार नहीं है. बसपा सुप्रीमो मायावती ने दिल्ली में यह बयान देकर सस्पेंस बना दिया कि फ्लोर टेस्ट में किसका साथ देना है और किसका नहीं, हमने अभी इस पर रणनीति नहीं बनाई है.

अधिक पढ़ें ...

    उत्तराखंड विधानसभा में परीक्षा की घड़ी नजदीक आ गई है. फ्लोर टेस्ट में 24 घंटे से भी कम समय बचा है. लेकिन कांग्रेस सरकार में सहयोगी रही बसपा अपने पत्ते खोलने को तैयार नहीं है. बसपा सुप्रीमो मायावती ने दिल्ली में यह बयान देकर  सस्पेंस बना दिया कि फ्लोर टेस्ट में किसका साथ देना है और किसका नहीं, हमने अभी इस पर रणनीति नहीं बनाई है.


    उत्तराखंड विधानसभा में बसपा के दो विधायक हैं. 2012 में कांग्रेस की सरकार बनवाने में बसपा का अहम रोल रहा था. कांग्रेस ने बहुगुणा को हटाकर हरीश रावत को मुख्यमंत्री बनाया तो भी बसपा ने समर्थन जारी रखा. मौजूदा सियासी घटनाक्रम में कांग्रेस हो या भाजपा, एक-एक विधायक की अहमियत है. ऐसे में बसपा के दो विधायकों की पूछ ज्यादा ही बढ़ गई है. कल तक कांग्रेस को समर्थन दे रहे बसपा विधायक भी अब कहने लगे हैं कि फ्लोर टेस्ट के लिए जैसा बहन जी का आदेश होगा, वैसा ही करेंगे.


    बसपा विधायक बहन जी यानी पार्टी सुप्रीमो मायावती का आदेश मानने की बात कह  रहे हैं वहीं मायावती के ताजा बयान से बसपा के समर्थन की गुत्थी सुलझने के बजाय और उलझ गई है. विधायक कह रहे हैं कि फ्लोर टेस्ट में किधर खड़ा होना है ये बहन जी तय करेंगी और बहन जी कह रही हैं कि अभी हमने तय किया ही नहीं है. इसके पीछे बसपा की कोई खास रणनीति है या फिर ये महज प्रेशर गेम है, इस पर सभी की नजर लगी हुई हैं.


    हरिद्वार जिला पंचायत में भाजपा बसपा के साथ: हरिद्वार जिला पंचायत चुनाव में भाजपा ने अपने 3 जिला पंचायत सदस्यों का समर्थन बसपा को देने का फैसला किया है. गौरतलब है कि 13 मई को हरिद्वार जिला पंचायत अध्यक्ष का चुनाव होना है. जिसमें बसपा ने उम्मीदवार खड़ा किया हुआ है. यहां कांग्रेस-बसपा आमने सामने हैं. अब देखना होगा कि क्या कांग्रेस भी यहां बसपा का समर्थन करती हैं या नहीं.

    Tags: Harish rawat

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर