अपना शहर चुनें

States

कॉर्बेट टाइगर रिज़र्व में फिर दौड़ेंगी जीएमओयू की बसें... क्रिसमस से खुल जाएगी कोटद्वार-कालागढ़ सड़क

मुख्य वन्यजीव प्रतिपालक ने मार्ग पर बसों के संचालन की अनुमति देने के लिए कॉर्बेट टाइगर रिज़र्व के निदेशक को निर्देश जारी कर दिए हैं.
मुख्य वन्यजीव प्रतिपालक ने मार्ग पर बसों के संचालन की अनुमति देने के लिए कॉर्बेट टाइगर रिज़र्व के निदेशक को निर्देश जारी कर दिए हैं.

इससे साठ किलोमीटर से ज़्यादा का सफ़र घट जाएगा और बसों को उत्तर प्रदेश से होकर नहीं जाना पड़ेगा.

  • Share this:
कोटद्वार. कॉर्बेट टाइगर रिज़र्व से होकर गुज़रने वाली कोटद्वार-कालागढ़ रामनगर सड़क पर एक बार फिर से बसें दौड़ना शुरू होंगी. साल 2018 में हाईकोर्ट के आदेश के बाद कालागढ़ मार्ग पर वाहनों की आवाजाही पर रोक लगा दी गई थी. अब वन मंत्री और कोटद्वार के विधायक हरक सिंह रावत के हस्तक्षेप के बाद यहां 25 दिसंबर से  फिर से बसों की आवाजाही शुरू होने जा रही है. इससे साठ किलोमीटर से ज़्यादा का सफ़र घट जाएगा और बसों को उत्तर प्रदेश से होकर नहीं जाना पड़ेगा.

बड़ी राहत मिलेगी

वन मंत्री हरक सिंह रावत के हस्तक्षेप के चलते दो साल के बाद एक बार फिर से कालागढ़ वन मार्ग आम लोगों की आवाजाही के लिए खुलने जा रहा है. कोटद्वार विधायक और वन मंत्री हरक सिंह रावत का कहना है कि 25 दिसंबर से कालागढ़ मार्ग को बसों के संचालन के लिए खोल दिया जाएगा.



उन्होंने कहा कि हाईकोर्ट के निर्देश के बाद इस मार्ग को अगस्त 2018 में बंद कर दिया गया था लेकिन हाईकोर्ट के आदेश पर सुप्रीम कोर्ट की ओर से स्टे लगा दिया गया था. ऐसे में अब इस मार्ग को जी एम ओ यू की बसों के संचालन के लिए खोला जा रहा है.
वन मंत्री हरक सिंह रावत का कहना है कि कालागढ़ क्षेत्र कोटद्वार का हिस्सा है. ऐसे में कालागढ़ से कोटद्वार आने वाले लोगों को भी बड़ी परेशानियों का सामना करना होता था. कालागढ़ वन मार्ग खुल जाने से अब कालागढ़ और रामनगर जाने वाले यात्रियों को उत्तर प्रदेश के रास्ते नहीं जाना होगा और लोगो को बड़ी राहत मिलने जा रही है.

विशेष अनुमति  

कॉर्बेट टाइगर रिज़र्व का रास्ता होने के चलते इस मार्ग पर सिर्फ़ जीएमओयू की बसों को सीमित संख्या में सीमित फेरे लगाने की अनुमति दी जाएगी. इस रास्ते पर न तो निजी वाहनों को आवाजाही की अनुमति मिलेगी और न ही रोडवेज़ की बसों को.

मुख्य वन्यजीव प्रतिपालक ने मार्ग पर बसों के संचालन की अनुमति देने के लिए कॉर्बेट टाइगर रिज़र्व के निदेशक को निर्देश जारी कर दिए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज