जम्मू-कश्मीर के गुलमर्ग में उत्तराखंड का लाल मनदीप सिंह नेगी शहीद, CM तीरथ सिंह रावत ने दी श्रद्धांजलि

मनदीप सिंह नेगी अपने माता-पिता की इकलौती संतान थे.

Mandeep Singh Negi Shaheed: जम्मू कश्मीर (Jammu and Kashmir) के गुलमर्ग (Gulmarg) में तैनात उत्तराखंड के पौड़ी के जवान मनदीप सिंह नेगी शहीद (Mandeep Singh Negi martyred) हो गए हैं. मनदीप अपने माता-पिता की इकलौती संतान थे.

  • Share this:
पौड़ी गढ़वाल. जम्मू कश्मीर (Jammu and Kashmir) के गुलमर्ग (Gulmarg) में तैनात जवान मनदीप सिंह नेगी (Mandeep Singh Negi Martyred) देश की सुरक्षा करते हुए ड्यूटी के दौरान शहीद हो गए हैं. पौड़ी जनपद के पोखड़ा ब्लॉक के अंतर्गत सकनोली गांव के रहने वाले मनदीप सिंह नेगी की शहादत की सूचना के बाद से पूरे गांव में मातम पसरा हुआ है. देश की रक्षा में बॉर्डर पर तैनात शहीद मनदीप सिंह नेगी 23 साल की कम उम्र में ही वीरगति को प्राप्त हुए. मनदीप सिंह 20 साल की उम्र में थल सेना का हिस्सा बन गए थे. 11वीं गढ़वाल राइफल्स के जवान के रूप में इन दिनों वो अपनी सेवा जम्मू कश्मीर के गुलमर्ग इलाके में दे रहे थे.

शहीद मनदीप सिंह नेगी अपने माता-पिता की इकलौती संतान थे. मनदीप सिंह नेगी की शहादत की सूचना मिलने के बाद से पूरा परिवार सदमें में है. पोखड़ा ब्लॉक के सकनोली गांव में उनकी माता और पिता रहते हैं. शहीद के पिता सतपाल सिंह नेगी गांव में किसानी का काम किया करते हैं, जबकि शहीद की माता हेमंती देवी गृहणी हैं.



माता-पिता की इकलौती संतान थे मनदीप

शहीद मनदीप सिंह नेगी के गांव के प्रधान मेहरबान सिंह ने बताया कि सेना की ओर से उन्हें फोन आया था जिसमें सेना के अधिकारियों ने बताया कि ड्यूटी के दौरान मनदीप सिंह नेगी शहीद हो गए हैं. इसकी सूचना उनके द्वारा शहीद के पिता को दी गई. सूचना के बाद से शहीद की मां का रो-रोकर बुरा हाल है. प्रधान की ओर से मिली जानकारी के अनुसार शहीद का पार्थिव शरीर कल हवाई मार्ग से कश्मीर से देहरादून के लिए रवाना होगा और फिर बाई रोड़ चौबट्टाखाल विधानसभा क्षेत्र के सकनोली गांव लाया जाएगा. वहीं शहीद मनदीप सिंह नेगी की शहादत की सूचना पर मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने भी गहरा दुःख व्यक्त किया है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.