Home /News /uttarakhand /

kotdwar news kumaon garhwal connected by road as bus to ramnagar starts after covid period

Garhwal-Kumaon कनेक्टिविटी ​बहाल, फिर शुरू हुई कोटद्वार के आखिरी छोर से रामनगर तक बस सेवा

पौड़ी ज़िले से नैनीताल ज़िले के बीच महत्वपूर्ण बस सेवा बहाल हुई.

पौड़ी ज़िले से नैनीताल ज़िले के बीच महत्वपूर्ण बस सेवा बहाल हुई.

गढ़वाल और कुमाऊं के बीच न केवल रोज़मर्रा का कारोबारी रिश्ता बना रहता है बल्कि लोग अपने गांवों के लिए भी आते जाते हैं. उत्तराखंड के इन दो अंचलों को जोड़ने वाली प्रमुख बस सेवा लंबे समय के बाद फिर बहाल उस दिन हुई, जब पुष्कर धामी सरकार के 100 दिन पूरे हुए.

अधिक पढ़ें ...

कोटद्वार. गढ़वाल से कुमाऊं को जोड़ने वाली सिगड्डि-कोटद्वार-रामनगर बस सेवा की शुरुआत 30 जून से हो गई. कोटद्वार विधायक और विधानसभा अध्यक्ष ऋतु खंडूरी ने इस बस को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया. गुरुवार को विधिवत पूजा पाठ के साथ शुरू की गई यह सेवा कोरोना संक्रमण काल के चलते पिछले करीब दो साल से बंद थी. कोरोना काल के पहले इस रूट पर बस सेवा से कई लोगों और यात्रियों को सुविधा बराबर मिलती थी क्योंकि उत्तराखंड के दो मंडल इस रास्ते से जुड़ जाते हैं.

परिवहन विभाग की ओर से कोरोना काल से पहले तक रामनगर-सिगड्डी बस सेवा का संचालन किया जाता था क्योंकि सिगड्डी क्षेत्र में कुमाऊं मूल के कई परिवार रहते हैं. इस बस सेवा के चालू रहने से उन्हें अपने पैतृ​क गांवों तक पहुंचने में आसानी होती है, लेकिन बस सेवा के बंद होने से उन्हें लंबे समय से परेशानियों का सामना करना पड़ रहा था. अब कोटद्वार के सिगड्डि से बस रोज़ सुबह 7 बजे निकलेगी और दोपहर 2.30 बजे रामनगर से वापस कोटद्वार के लिए आएगी.

इस बस के फिर शुरू हो जाने से स्थानीय लोगों में उत्साह देखा गया. इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष खंडूरी ने मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी, परिवहन मंत्री चंदन राम दास को धन्यवाद देते हुए युवा मोर्चा के पदाधिकारियों की भी तारीफ की. उन्होंने कहा कि बस सेवा शुरू होने से गढ़वाल और कुमाऊं मंडल के लोगों की कई मुश्किलें खत्म हो जाएंगी.

गायों को गोशाला पहुंचाने का अभियान शुरू
कोटद्वार शहर को आवारा पशुओं से निजात दिलाने के लिए खंडूरी ने एक अभियान की शुरुआत भी की. अभियान के तहत शहर की सड़कों पर आवारा घूम रही गायों को गैंडीखाता स्थित भागीरथी धाम आश्रम गोशाला भेजा जाएगा. गोवंश को कोटद्वार से ले जाने वाले वाहन को हरी झंडी दिखाकर उन्होंने मुहिम शुरू की.

इधर कोटद्वार में पुरानी पेंशन बहाली की मांग को लेकर सरकारी कर्मचारियों ने गुरुवार को जुलूस निकाला. इस दौरान सैकड़ों की तादाद में सड़कों पर उतरे अध्यापकों समेत दूसरे सरकारी विभागों में तैनात कर्मचारियों ने जल्द से जल्द उनकी मांगें पूरी करने किए जाने की मांग की. विरोध कर रहे कर्मचारियों ने कहा, इसी तरह सभी जनपदों में जुलूस निकालकर पुरानी पेंशन बहाली की मांग की जाएगी.

Tags: Ritu Khanduri Bhushan, Uttarakhand news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर