सीएम के बयान  के बाद एनआईटी के स्थायी कैम्पस निर्माण की उम्मीद जगी

एनआईटी के सभी विद्यार्थी कक्षाओं और परीक्षाओं का बहिष्कार कर संस्थान परिसर में धरना दे रहे हैं.

Sudhir Bhatt | News18 Uttarakhand
Updated: October 13, 2018, 11:14 PM IST
सीएम के बयान  के बाद एनआईटी के स्थायी कैम्पस निर्माण की उम्मीद जगी
आंदोलन पर डटे छात्र-छात्राओं ने अपनी मांगों को पूरा करने के लिए सीएम को पत्र भी भेजा था.
Sudhir Bhatt | News18 Uttarakhand
Updated: October 13, 2018, 11:14 PM IST
श्रीनगर गढ़वाल स्थित प्रदेश के एकमात्र एनआईटी के स्थायी कैम्पस के लिए 9 वर्षों बाद भी पर्याप्त भूमि नहीं मिलने से लटके निर्माणकार्य पर सीएम त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने अपनी चुप्पी तोड़ी है. नगर दौरे पर पहुंचे सीएम रावत ने इस मामले में पूछे गए सवाल पर कहा कि जमीन का मामला लगभग फाइनल हो गया है. उन्होंने कहा कि अब इस मामले पर सारे कयास खत्म हो जाने चाहिए.

गौरतलब है कि स्थायी कैम्पस के लिए भूमि उपलब्ध कराने और जल्द निर्माण कार्य शुरू करने की मांग को लेकर 10 दिनों से एनआईटी के सभी छात्र-छात्राएं कक्षाओं और परीक्षाओं का बहिष्कार कर संस्थान परिसर में धरना दे रहे हैं. आंदोलन पर डटे छात्र-छात्राओं ने अपनी मांगों को पूरा करने के लिए सीएम को पत्र भी भेजा था.

ये भी पढ़ें - भारत-चीन सीमा पर सैटेलाइट फोन से बात करता स्पेनिश नागरिक गिरफ्तार

उत्तराखंड: प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने बायोमेडिकल कचरा निस्तारण मामले में अस्पतालों पर जुर्माना ठोंका

टिहरी डैम: 17 गांव के 415 परिवार खतरे की जद में जीने को मजबूर

यह देखें - VIDEO:कैनाइन डिस्टेंपर वायरस की जद में वन्य जीव, 3 हफ्ते में 23 शेरों की मौत
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर