Home /News /uttarakhand /

इस बार ख़ामोश हैं वोटर... किसके पक्ष में होगा मतदान अंदाज़ लगना मुश्किल

इस बार ख़ामोश हैं वोटर... किसके पक्ष में होगा मतदान अंदाज़ लगना मुश्किल

कोटद्वार में प्रचार के दौरान जनसभाओं में भीड़ का अभाव भी यह दर्शाता है कि इस बार वोटर मौन होकर मतदान करने के मूड में हैं.

कोटद्वार में प्रचार के दौरान जनसभाओं में भीड़ का अभाव भी यह दर्शाता है कि इस बार वोटर मौन होकर मतदान करने के मूड में हैं.

राजनैतिक जानकर भी मानते है कि पहले के चुनाव में और अब के चुनाव प्रचार में काफी अंतर दिख रहा है.

    उत्तराखंड में लोकसभा चुनाव का प्रचार कल यानि मंगलवार शाम थम चुका है. अब कल यानि गुरुवार 11 अप्रैल को राज्य की पांच सीटों के लिए मतदान होगा. इस बार हुए चुनाव प्रचार पर गौर किया जाए तो प्रचार की फ़िज़ा कुछ बदली सी दिखाई दी. इस बार वोटर पिछले चुनाव की तुलना में ख़ामाश दिखाई दे रहा है. मतदाताओं की ख़ामोशी से इस बात की आशंका बढ़ जाती है कि चुनाव परिणाम अप्रत्याशित भी हो सकते हैं.

    दून में सैकड़ों लोगों के नाम वोटर लिस्ट से गायब, निर्वाचन अधिकारी ने कहा- देर हो गई

    पौड़ी लोकसभा सीट में इस बार के चुनाव का माहौल कुछ और ही बयां कर रहा है. चुनाव प्रचार खत्म होने के बाद अब अगर आप पूरे प्रचार पर अगर गौर करें तो ख़्याल आता है कि इस बार प्रचार की तस्वीर कुछ और ही है. प्रचार के दिनों में भी इस बात का ज्यादा अहसास नही हुआ कि लोकसभा चुनाव का प्रचार हो रहा हो.

    कार्यकर्ताओं में ही विश्वास नहीं बचा... क्या करेगा उत्तराखंड क्रांति दल

    कोटद्वार में प्रचार के दौरान जनसभाओं में भीड़ का अभाव भी यह दर्शाता है कि इस बार वोटर मौन होकर मतदान करने के मूड में हैं. पार्टी से जुड़े कार्यकर्ता भले ही अपनी पार्टी का खुला समर्थन कर रहे हों लेकिन ज्यादातर मतदाता खुल कर किसी पार्टी का समर्थन करने को तैयार नहीं हैं.

    यहां निर्वाचन आयोग ही डाल रहा है इन लोगों के मताधिकार पर डाका

    राजनैतिक जानकर भी मानते है कि पहले के चुनाव में और अब के चुनाव प्रचार में काफी अंतर दिख रहा है. वरिष्ठ पत्रकार चंद्रेश लखेड़ा कहते हैं कि इसके पीछे वोटरों में असमंजस की स्थिति भी हो सकती है और एंटी इनकमबेंसी भी.

    VIDEO: हार स्वीकारने लगी कांग्रेस! हृदयेश ने कहा- टिहरी में जीत तय, बाकी पता नहीं

    बहरहाल साइलेंट वोटर किसके पक्ष में वोट करेंगे यह अंदाज़ा लगाना भी बेहद मुश्किल है. निर्णायक भूमिका निभाने वाले निचले तबके के वोटर मौन हैं जिसने प्रत्याशियों की बेचैनी बढ़ा दी है.

    यहां मच्छरों से लड़ने का हथियार भी दिया जा रहा है मतदानकर्मियों को

    जंगल में रहते हैं लेकिन वोट डालने से नहीं चूकते राजाजी टाइगर रिज़र्व के वन गुज्जर

    Facebook पर उत्‍तराखंड के अपडेट पाने के लिए कृपया हमारा पेज Uttarakhand लाइक करें.

    एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

    Tags: Kotdwar news, North Uttarakhand Lok Sabha Elections 2019, Tehri Garhwal S28p01, Uttarakhand Lok Sabha Elections 2019, Uttarakhand news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर