Home /News /uttarakhand /

पहाड़ का एक और लाल शहीद, जम्मू-कश्मीर में दिया बलिदान, ऐसे अंतिम विदाई देगा गांव

पहाड़ का एक और लाल शहीद, जम्मू-कश्मीर में दिया बलिदान, ऐसे अंतिम विदाई देगा गांव

पौड़ी निवासी जवान के राजौरी में शहीद होने की खबर से मातम पसरा.

पौड़ी निवासी जवान के राजौरी में शहीद होने की खबर से मातम पसरा.

Uttarakhand News : उत्तराखंड को देवभूमि के साथ ही वीरों की भूमि (Soil of Soldiers) भी कहा जाता है. वीरता की एक और मिसाल कायम करते हुए पहाड़ का एक और बेटा देश पर कुर्बान हो गया. राजौरी (Rajouri in J&K) के मेंढर सेक्टर में आतंकियों से देश की रक्षा (Army Operation Against Terrorism) करते हुए शहादत देने वाले इस बेटे के पिता और भाई भी सेना से ताल्लुक रखते हैं. सैन्य परिवार के इस लाल की शादी की तैयारियां चल रही थीं और उत्सव की बाट जोह रहे परिवार पर दुख का पहाड़ टूट पड़ा, जब यह खबर मिली.

अधिक पढ़ें ...

कोटद्वार. देश की रक्षा में उत्तराखंड का एक और बेटे के शहीद होने की खबर आई तो पौड़ी जनपद के गांव में मातम पसर गया. द्वारीखाल ब्लॉक के अंतर्गत ग्राम लंगूरी निवासी अनिल चौहान गुरुवार को जम्मू-कश्मीर में आतंकियों से लोहा लेते हुए देश के लिए शहीद हो गए. गुरुवार को बलिदान की आधिकारिक सूचना मिलने के बाद से ही चौहान के घर में कोहराम मचा है. एक तरफ शोक संतप्त परिवार का हाल बुरा है तो दूसरी तरफ ब्लॉक प्रमुख ने चौहान की शहादत को क्षेत्र के लिए गौरव का क्षण बताकर उन्हें श्रद्धांजलि दी.

8वीं गढ़वाल राइफल्स में तैनात राइफलमैन अनिल चौहान ग्राम लंगूरी द्वारीखाल ब्लॉक के रहने वाले थे. बेटे के बलिदान की सूचना सेना द्वारा उनके पिता बृज मोहन चौहान को गुरुवार दोपहर को दी गई. बृज मोहन भी आर्मी से रिटायर हैं और फिलहाल घर पर किसानी का काम किया करते हैं. बेटे की शहादत से पूरे इलाके में मातम पसरा हुआ है। जानकारी के अनुसार शहीद अनिल चौहान की इसी साल मई महीने में शादी होने वाली थी और इसी के सिलसिले में पूरा परिवार उत्साह के साथ मांगलिक कार्यक्रम की तैयारियों में व्यस्त था.

सम्मान के साथ अंतिम विदाई देगा गांव
दूसरी तरफ, अपने क्षेत्र के युवा के देश की रक्षा के दौरान शहीद होने पर द्वारीखाल ब्लॉक प्रमुख महेंद्र सिंह राणा ने दुख जाहिर किया. उन्होंने चौहान की शहादत पर गर्व करते हुए कहा कि पूरे द्वारीखाल समेत उत्तराखंड के लोगों के लिए ये गर्व की बात है कि उनके लाल ने देश की रक्षा में अपने प्राण न्यौछावर कर दिए. पूरे ब्लॉक में चौहान को अंतिम विदाई देने की तैयारियां भी की जा रही हैं.

शहीद अनिल चौहान के परिवार से मिली सूचना के अनुसार शहीद का पार्थिव शरीर कल उनके पैतृक गांव पहुंचेगा. सैन्य सम्मान के साथ शहीद को अंतिम विदाई दी जाएगी. बताया जा रहा है कि इसके लिए बड़ी संख्या में लोग उनके गांव में पहुचेंगे.

Tags: Martyred Jawan, Uttarakhand news

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर