• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttarakhand
  • »
  • कब तक बच्चे बेमौत मारे जाते रहेंगे? पूछ रही है एक शहीद की मां

कब तक बच्चे बेमौत मारे जाते रहेंगे? पूछ रही है एक शहीद की मां

शहीद की मांग केंद्र सरकार और सभी पार्टियों से मांग करती हैं कि सब मिलकर आतंकियों के खिलाफ़ सख्त कदम उठाएं.

शहीद की मांग केंद्र सरकार और सभी पार्टियों से मांग करती हैं कि सब मिलकर आतंकियों के खिलाफ़ सख्त कदम उठाएं.

शहीद मनदीप की मां सूमा रावत ने कहा है कि आतंकियों को सबक सिखाने का समय आ गया है. उन्होंने केंद्र सरकार और सभी पार्टियों से मांग की है कि सब मिलकर आतंकियों के खिलाफ़ सख्त कदम उठाएं.

  • Share this:
    पुलवामा में सीआरपीएफ़ के काफ़िले पर आतंकी हमले के बाद देश भर में आतंकवाद और आतंकियों को पनाह देने वाले पाकिस्तान के खिलाफ आक्रोश पनप रहा है. सैनिकों के प्रदेश उत्तराखंड ने पहले भी कश्मीर में आतंकवादियों के हाथों अपने लाल खोए हैं. इन्हीं में से एक थे अगस्त 2018 में जम्मू-कश्मीर के बांदीपुरा सेक्टर में आतंकियों के साथ मुठभेड़ में शहीद हुए मनदीप सिंह रावत. गुरुवार के आतंकी हमले ने शहीद मनदीप के परिजनों को उनकी शहादत की याद दिला दी.

    यह भी देखें- VIDEO: कोटद्वार में शहीद मनदीप की अंतिम यात्रा में उमड़ा जनसैलाब

    गढ़वाल के प्रवेशद्वार पौड़ी के कोटद्वार में रहने वाले शहीद मंदीप सिंह रावत के परिवार का कहना है कि आतंकियों के हौसले बुलंद हो चले हैं. सरकार को आतंकवादियों को मुंहतोड़ जवाब देना चाहिए. शहीद मंदीप सिंह के पिता एक रिटायर्ड फौजी हैं, वह तो किसी तरह खुद को संभाल लेते हैं लेकिन बेटे को याद कर मां की आंखें भर आती हैं.

    यह भी देखें- उत्तराखंड पुलिस भी करेगी पुलवामा के शहीदों को सहायता, मौन रखकर दी श्रद्धांजलि

    शहीद मनदीप की मां सूमा रावत कहती हैं कि आतंकियों को सबक सिखाने का समय आ गया है. वह कहती हैं कि आतंकी पीठ पीछे से वार करते हैं, सामने से वार करें तो सेना भी उन्हें सबक सिखा सकती है.

    यह भी देखें- पुलवामा आतंकी हमलाः शहीदों के परिवारों के लिए उत्तराखंड ने बढ़ाया मदद का हाथ

    वह पूछती हैं कि आखिर कब तक ये बच्चे बेमौत मारे जाते रहेंगे. उन्होंने मांग की है कि अब बदला देने का समय आ गया है. शहीद की मां ने केंद्र सरकार और सभी पार्टियों से मांग की है कि सब मिलकर आतंकियों के खिलाफ़ सख्त कदम उठाएं.

    यह भी देखें- खटीमा के वीरेंद्र सिंह राणा भी हुए पुलवामा में शहीद... घर में पसरा मातम, पाकिस्तान के लिए गुस्सा

    यह भी देखें- VIDEO: हरिद्वार में काली पट्टी बांधकर पुलवामा आतंकी हमले का विरोध किया मुस्लिम समाज ने

    Facebook पर उत्‍तराखंड के अपडेट पाने के लिए कृपया हमारा पेज Uttarakhand लाइक करें.

    एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज