हल्द्वानी: कोरोना रिपोर्ट देने में देरी करने पर पैथलॉजी लैब की परमिशन कैंसिल, FIR दर्ज

हल्द्वानी में कोरोना टेस्ट की रिपोर्ट देरी से देने पर लैब के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है.(प्रतीकात्मक फोेटो)

हल्द्वानी (Haldwani) की एक पैथलॉजी लैब (Pathology Lab) की कोरोना टेस्ट (Corona Test) करने की अनुमति को प्रशासन ने वापस ले लिया क्योंकि लैब ने समय पर कोरोना टेस्ट रिपोर्ट नहीं दी थी. रिपोर्ट देने में लापरवाही करने पर लैब के खिलाफ एफआईआर (FIR) दर्ज की गई है.

  • Share this:
हल्द्वानी. हल्द्वानी (Haldwani) में एक प्राइवेट पैथलॉजी लैब (Pathology lab) को कोरोना रिपोर्ट(Corona Report) देने में देरी करना भारी पड़ गया. रिपोर्ट देने में देरी के चलते डॉ. लाल पैथ लैब में कोविड टेस्ट( Covid Test) की परमिशन कैंसिल कर दी गई, उसके बाद पैथलॉजी लैब के खिलाफ एफआईआर (FIR) भी दर्ज कराई गई है. लैब के खिलाफ एफआईआर डिजास्टर मैनेजमेंट एक्ट के तहत हुई है, जिसमें पैथलॉजी लैब पर गंभीर लापरवाही बरतने का आरोप है.

हल्द्वानी में कोरोना जांच मे लापरवाही बरतने पर डॉ. लाल पैथलैब संचालक के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है. कोविड-9 के लिए अर्बन नोडल अधिकारी बनाए गए डॉ. कमल किशोर ने हल्द्वानी के मुखानी थाने में ये एफआईआर दर्ज कराई है. हल्द्वानी के गणपति विहार फेज-1 निवासी एचएन पाठक ने शिकायत की थी कि 12 दिसम्बर को उन्होंने डॉ. लाल पैथलैब में अपनी बेटी की कोरोना जांच कराई थी. लैब द्वारा 17 दिन के बाद 28 दिसम्बर को रिपोर्ट उपलब्ध कराई, जो कोविड पाॅजिटिव थी. जांच रिपोर्ट देने में देरी के कारण कोरोना संक्रमण की रोकथाम एवं इसके प्रसार हेतु किए जा रहे प्रयास और कार्य प्रभावित हुए हैं.
UK: देहरादून में रोडवेज कर्मचारियों की हड़ताल, कुंभ के लिए हरिद्वार हाईवे पर एंट्री बंद

साथ ही लैब द्वारा कोरोना जांच रिपोर्ट को देर से उपलब्ध कराने के साथ ही निर्गत निर्देशों-शर्तों का अनुपालन सुनिश्चित नहीं किए जाने से इंसानी जीवन पर खतरा पैदा हुआ है. नोडल ऑफिसर डॉ. कमल किशोर ने हल्द्वानी के विरुद्व डिजास्टर मेनेजमैंट एक्ट एवं भारतीय दंड संहिता की धारा 269 एवं 270 के अधीन प्राथमिकी दर्ज की गई है.

कोरोना जांच की परमिशन कैंसिल

डॉ. लाल पैथ लैब की लापरवाही को देखते हुए नैनीताल के डीएम सविन बंसल ने लैब की कोरोना जांच की परमिशन की कैंसिल कर दी है. अब यह लैब मरीजों की कोरोना जांच नहीं कर सकेगी. लैब पर आरोप है कि उसके द्वारा भारत सरकार के द्वारा तैयार आईसीएमआर के पोर्टल मे ंडेली रिपोर्ट भी अपडेट नहीं की जा रही थी.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.