Home /News /uttarakhand /

adventure sports in vyas valley cycle show pithoragarh localuk

पिथौरागढ़: 12000 फीट की ऊंचाई पर राफ्टिंग-पैराग्लाइडिंग के बाद अब लीजिए 'माउंटेन साइक्लिंग' का मजा!

X

व्यास वैली से ही कैलाश मानसरोवर (Kailash Mansarovar) भी जाया जाता है. इसी क्षेत्र में आदि कैलाश और ओम पर्वत जैसे धार्मिक स्थल हैं.

    ऊंची-ऊंची पहाड़ियों, झरनों, नदियों और पेड़-पौधों से हरा-भरा उत्तराखंड का जिला पिथौरागढ़ (Pithoragarh Adventure Sports) राज्य में पर्यटन की दृष्टि से महत्वपूर्ण माना जाता है. पिथौरागढ़ को विश्व पटल पर पर्यटन के नक्शे पर उतारने के लिए प्रशासन द्वारा हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं. हिमालय और नदियों से घिरा होने के कारण पिथौरागढ़ जिले में एडवेंचर स्पोर्ट्स की तमाम संभावनाएं हैं, जिसको संजोने के लिए प्रशासन द्वारा चीन सीमा से लगी व्यास घाटी को साहसिक खेलों के तौर परएक नई पहचान देने के मकसद से इस क्षेत्र में एडवेंचर स्पोर्ट्स के जुड़ी गतिविधियां कराई जा रही हैं.

    प्रशासन की पहल पर व्यास वैली में पहली बार 12000 फीट की ऊंचाई पर रिवर राफ्टिंग कराई जा रही है. साथ ही हिमालय की वादियों के बीच पैराग्लाइडिंग के बाद अब प्रशासन माउंटेन साइक्लिंग का आयोजन करने जा रहा है. यह प्रतियोगिता 25 मई से शुरू हो रही है. व्यास वैली से ही कैलाश मानसरोवर (Kailash Mansarovar) भी जाया जाता है. इसी क्षेत्र में आदि कैलाश और ओम पर्वत जैसे धार्मिक स्थल हैं, जिनका दीदार करने पर्यटक यहां पहुंचते हैं. गुंजी से आदि कैलाश तक हो रही इस साइकिल रेस में देशभर के साइक्लिस्ट हिस्सा लेने वाले हैं. (रिपोर्ट- हिमांशु जोशी)

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर