vidhan sabha election 2017

सगंध खेती से बढ़ेगा सीमांत क्षेत्रों में स्वरोज़गार

News18India
Updated: November 14, 2017, 9:06 PM IST
सगंध खेती से बढ़ेगा सीमांत क्षेत्रों में स्वरोज़गार
News18India
Updated: November 14, 2017, 9:06 PM IST
मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने मंगलवार को जनपद पिथौरागढ के विकासखण्ड धारचूला के जौलजीवी में जौलजीवी मेला एवं विकास प्रर्दशनी-2017 का दीप प्रज्ज्वलित कर उद्घाटन किया. इस अवसर पर मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र ने 57 करोड़, 98 लाख, 52 हजार रुपये की लागत के कुल 27 निर्माण कार्यों का शिलान्यास एवं लोकार्पण किया.

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने क्षेत्र के विकास हेतु विभिन्न घोषणाएं. इनमें बलुवाकोट डिग्री कॉलेज में आगामी शिक्षा सत्र से स्नाकोत्तर की कक्षाएं प्रारम्भ किए जाने, सोसा में मिनी स्टेडियम का निर्माण करने, तवाघाट में तटबंध निर्माण, नगर पंचायत धारचूला के ग्वालगांव में सिवर लाईन निर्माण, धारचूला में पंडित दीनदयाल उपाध्याय पार्क का निर्माण, दूतीबगड़-जौलजीबी में पंचायत घर का निर्माण, बलुवाकोट डिग्री कॉलेज में मिनी स्टेडियम के निर्माण, दारमा-चैदास व्यासघाटी में ट्रेकिंग मार्ग का निर्माण, तांकुल में मिनी स्टेडियम के निर्माण, धारचूला नगर पालिका क्षेत्रान्तर्गत पार्किंग निर्माण एवं हाईटेक शौचालय का निर्माण, मुनस्यारी विकास खण्ड के साइपोलो में पेयजल लाइन के निर्माण की घोषणाएं शामिल हैं.

इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने जौलजीबी मेला एवं विकास प्रदर्शनी को पांच लाख रुपये दिए जाने की भी घोषणा की. कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि पर्वतीय क्षेत्रों से हो रहे पलायन को रोकने हेतु सरकार कृषि और औद्यानिकी के क्षेत्र में कार्य कर रही है.

उन्होंने कहा कि किसानों की आय को वर्ष 2022 तक दोगुना करने के उद्देश्य से सरकार लघु और सीमांत किसानों को 2 प्रतिशत के सस्ते ब्याज पर एक लाख रुपये तक का कृषि दे रही है. मुख्यमंत्री ने कहा कि सीमांत क्षेत्र धारचूला एवं मुनस्यारी में सगंध खेती के लिए अनुकूल वातावरण है. इन गांवों में सोसाइटी बनाकर सगंध खेती कर स्थानीय स्तर पर स्वरोजगार के अवसर बढ़ेंगे. उन्होंने व्यवसायिक खेती को प्रोत्साहित किए जाने की बात कही.

मुख्यमंत्री ने कहा कि सीमांत क्षेत्र के विकास हेतु केन्द्र एवं राज्य सरकार द्वारा अनेक विकास योजनाएं संचालित की जा रही है. सीमांत क्षेत्रों में संचार एवं कनेक्टिविटी की बेहतर सुविधा मुहैया कराने के उद्देश्य से बैलून तकनीक का प्रयोग किया जाएगा. मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र ने कहा कि बेहतर स्वास्थ्य सुविधा प्रदान किए जाने हेतु राज्य के 12 चिकित्सालयों में टेली रेडियोलॉजी की सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है. प्रदेश में बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए राज्य सरकार प्रतिबद्ध है.

इस अवसर पर कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल, विधायक बिशन सिंह चुफाल, मीना गंगोला, हरीश धामी, जिलाधिकारी सी.रविशंकर, पुलिस अधीक्षक अजय जोशी, क्षेत्रीय जनप्रतिनिधि उपस्थित थे.

 
First published: November 14, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर