Home /News /uttarakhand /

मुआवजा नहीं मिलने से किसानों में प्रशासन के खिलाफ नाराजगी

मुआवजा नहीं मिलने से किसानों में प्रशासन के खिलाफ नाराजगी

खटीमा में तूफान पीड़ित किसानों ने स्थानीय प्रशासन पर उनकी सुध नहीं लेने का आरोप लगाया है. किसानों का कहना है कि तूफान से उनके आम व लीची के बगीचे तबाह हो गए है. इसके कारण कई लोग सदमे में हैं.

खटीमा में तूफान पीड़ित किसानों ने स्थानीय प्रशासन पर उनकी सुध नहीं लेने का आरोप लगाया है. किसानों का कहना है कि तूफान से उनके आम व लीची के बगीचे तबाह हो गए है. इसके कारण कई लोग सदमे में हैं.

खटीमा में तूफान पीड़ित किसानों ने स्थानीय प्रशासन पर उनकी सुध नहीं लेने का आरोप लगाया है. किसानों का कहना है कि तूफान से उनके आम व लीची के बगीचे तबाह हो गए है. इसके कारण कई लोग सदमे में हैं.

    खटीमा में तूफान पीड़ित किसानों ने स्थानीय प्रशासन पर उनकी सुध नहीं लेने का आरोप लगाया है. किसानों का कहना है कि तूफान से उनके आम व लीची के बगीचे तबाह हो गए है. इसके कारण कई लोग सदमे में हैं.

    किसानों ने स्थानीय प्रशासन से मदद की गुहार लगाई है. आपको बता दें कि टनकपुर व बनबसा क्षेत्र में तूफान से आम के बगीचे तबाह हो गए है. इस वजह से किसान खासे परेशान हैं.

    उपजिलाधिकारी का कहना है कि खटीमा में प्रशासन ने मुआवजे के तहत ढाई लाख की राशि किसानों में बांट दी है. क्षेत्र में नुकसान का आंकलन कर दस लाख का प्रस्ताव शासन को भेज दिया है.

    गौरतलब है कि शुक्रवार देर रात आए तेज आंधी-तूफान से खटीमा व चम्पावत में लोगों के घरों को काफी अधिक नुकसान पहुंचा है. साथ ही किसानों के आम और लीची के बाग भी उजड़ गए थे. आंधी के चलते लोगों के घरों की छतें तक उड़ गई थीं.

    आप hindi.news18.com की खबरें पढ़ने के लिए हमें फेसबुक और टि्वटर पर फॉलो कर सकते हैं.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर