फेसबुक पर CM त्रिवेंद्र सिंह रावत के निधन के बारे में फैलाई अफवाह, दर्ज हुआ मुकदमा
Pithoragarh News in Hindi

फेसबुक पर CM त्रिवेंद्र सिंह रावत के निधन के बारे में फैलाई अफवाह, दर्ज हुआ मुकदमा
उत्तराखंड सरकार चाहती है कि हताश होकर लौटे लोग फिर पहाड़ों से पलायन न करें. (फाइल फोटो मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत)

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत (Trivendra Singh Rawat) के निधन को लेकर फेसबुक (Facebook) पर अफवाह फैलाने के मामले में पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया है.

  • Share this:
पिथौरागढ़. उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत (Trivendra Singh Rawat) के निधन को लेकर फेसबुक (Facebook) पर अफवाह फैलाने के मामले में पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया है. फेसबुक पर मुख्यमंत्री को लेकर को लेकर की गई झूठी टिप्पणी पर पिथौरागढ़ (Pithoragarh) का प्रशासन मुस्तैद हो गया है. राजस्व पुलिस क्षेत्र का मामला होने के कारण बनकोट पटवारी सर्किल में मामला दर्ज किया गया है.

पिथौरागढ़ के डीएम विजय जोगदंडे ने बताया कि झूठी खबर पोस्ट करने वाले के खिलाफ मामला राजस्व पुलिस में दर्ज किया जा चुका है. साथ ही आरोपी की पहचान भी हो गई है. राजस्व पुलिस को आरोपी को गिरफ्तार करने के लिए आदेश दे दिए गए हैं.

दरअसल, मंगलवार की रात साढ़े दस बजे पिथौरागढ़ के गणाईगंगोली तहसील के बनकोट गॉंव के नरेंद्र मेहता ने अपनी फेसबुक वॉल पर लिखा था कि उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र रावत का हार्ड अटैक से आकस्मिक निधन हो गया है. नरेंद्र की पोस्ट देखकर लोग भौंचक्के रह गए. सोशल मीडिया की कम जानकारी रखने वाले ने तो इस झूठी पोस्ट पर यकीन भी कर लिया था. कईयों ने नरेंद्र की पोस्ट पर कमेंट भी किए. लेकिन सुबह होते जब ये मामला प्रशासनिक अधिकारियों के संज्ञान में आया तो सरकारी मशीनरी एक्टिव मोड में आ गई.



उत्तराखंड पुलिस के डीजी लॉ एंड आर्डर अशोक कुमार ने मामले में मुकदमा दर्ज कराने के आदेश जारी किए. जिसके बाद आरोपी की पहचान की कोशिशें तेज हो गईं. बीते कुछ दिनों से सोशल मीडिया में अक्सर सीएम रावत को लेकर गलत पोस्ट प्रचारित की जा रही थीं. लेकिन हद तो तब हो गई जब सीएम जैसे पद पर बैठे व्यक्ति की मौत की  झूठी अफवाह फैलाने की गंदी कोशिश की गई. इस झूठी पोस्ट से सरकार भी सकते में आ गई.



पिथौरागढ़ बीजेपी के जिलाध्यक्ष बीरेंद्र वल्दिया ने इस घटना पर हैरानी जताते हुए कहा कि लोकतंत्र में किसी को भी अपनी बात रखने का पूरा हक है. लेकिन इसका ये मतलब नहीं कि सीएम के खिलाफ कोई भी कुछ भी पोस्ट करें. वल्दिया ने भी प्रशासन से इस मामले में उचित कार्रवाई की मांग की है.

ये भी पढ़ें-

लॉकडाउन में घर लौटे लोगों को रोकना चाहती है सरकार, लुभाने को दे रही यह 'ऑफर'

बिहार सरकार के इस ऐलान से उत्तराखंड के डाकघरों में क्यों लगी कतार, जानें वजह
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading