तीरथ सरकार पर हरीश रावत का तंज, कहा- बोतल में नई लेबल लगी पुरानी शराब है पूरी कैबिनेट

उत्तराखंड कैबिनेट पर बोले हरीश रावत- 'ये बोतल में नया लेबल और पुरानी शराब है.'

उत्तराखंड कैबिनेट पर बोले हरीश रावत- 'ये बोतल में नया लेबल और पुरानी शराब है.'

रावत ने ट्वीट कर कहा कि उत्तराखंड सरकार की नई कैबिनेट में कोई नयापन नहीं है. 'ये पूरी कैबिनेट बोतल में नया लेबल लगाकर पुरानी शराब है.' उन्होंनें त्रिवेन्द्र सरकार में हुईं कथित गड़बडिय़ों और बीजेपी के नए प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक पर भी निशाना साधा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 13, 2021, 9:55 PM IST
  • Share this:

पिथौरागढ़. उत्तराखंड (Uttarakhand) के तीरथ सिंह रावत (Tirath Singh Rawat) कैबिनेट पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत (Harish Rawat) ने निशाना साधा है. उन्होंने शनिवार को ट्वीट कर कहा कि उत्तराखंड सरकार की नई कैबिनेट में कोई नयापन नहीं है. उन्होंने त्रिवेन्द्र सरकार में हुई कथित गड़बड़ियों को लेकर बीजेपी के नए प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक पर भी हमला बोला. उन्होंने कहा कि कौशिक को कैबिनेट में जगह नहीं मिली तो प्रदेश अध्यक्ष बना दिया गया.

हरीश रावत ने उत्तराखंड में सरकार का चेहरा बदलने पर कटाक्ष करते हुए बीजेपी नेतृत्व को कठघरे में खड़ा करने की कोशिश की है. राज्य में मचे सियासी घमासान में जहां त्रिवेन्द्र सिंह रावत को अपनी कुर्सी गंवानी पड़ी, वहीं कद्दावर बीजेपी नेता मदन कौशिक को भी तीरथ कैबिनेट में जगह नहीं मिल पाई. हालांकि बीजेपी ने उन्हें प्रदेश अध्यक्ष बनाया है. पूर्व सीएम ने कहा कि पूर्ववर्ती मंत्रिमंडल के निकम्मेपन, कुशासन और भ्रष्टाचार के लिए केवल दो लोग दोषी पाए गए, उनमें से एक व्यक्ति को उत्तराखंड बीजेपी के अध्यक्ष पद से नवाज दिया गया है.

उन्होने ट्वीट कर कहा, 'जिन लोगों पर धन चटुआ होने के आरोप लगे थे, वो तीरथ मंत्रिमंडल में भी मौजूद हैं.' साथ ही उन्होंने नए मंत्रिमंडल में नयापन नहीं दिखाई देने की बात कहते हुए कहा कि पूरी कैबिनेट बोतल में नया लेबल लगाकर पुरानी ही शराब है.

दरअसल ऐसी उम्मीद जताई जा रही थी कि तीरथ कैबिनेट में कुछ पुराने मंत्रियों की छुट्टी हो सकती है, लेकिन ऐसा नही हुआ. मंत्रिमंडल में त्रिवेन्द्र सरकार के सभी चेहरों को शामिल किया गया. साथ ही चार नए चेहरों को भी इसमें जगह दी गई. कांग्रेस नेता का कहना है कि इतना बड़ा राजनीतिक तूफान खड़ा कर भले ही बीजेपी ने अपने आंतरिक झगड़े सुलझाएं हों, लेकिन राज्य की जनता को इससे कुछ हासिल नहीं हुआ है.
वहीं, बीजेपी के प्रदेश प्रवक्ता सुरेश जोशी ने इस पर पलटवार करते हुए कहा कि हरीश रावत ऐसे ट्वीट कर सिर्फ खुद को चर्चाओं में लाना चाहते हैं. उनकी कही बातों का दूर-दूर तक सच्चाई से कोई नाता नहीं है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज