फिर गुस्ताख हुआ नेपालः लिम्पियाधूरा, कालापानी, लिपुलेख को बताया अपना, कहा- घुसपैठ कैसी
Pithoragarh News in Hindi

फिर गुस्ताख हुआ नेपालः लिम्पियाधूरा, कालापानी, लिपुलेख को बताया अपना, कहा- घुसपैठ कैसी
धारचूला के एसडीएम का नेपाली अधिकारियों को लिखा पत्र और उसका जवाब.

चीन बॉर्डर को जोड़ने वाली लिपुलेख सड़क के उद्घाटन के बाद नेपाल लगातार भारत विरोधी माहौल तैयार करने में जुटा है.

  • Share this:
पिथौरागढ़. चीन बॉर्डर को जोड़ने वाली लिपुलेख सड़क के उद्घाटन के बाद नेपाल लगातार भारत विरोधी माहौल तैयार करने में जुटा है. नए राजनीतिक नक्शे में नेपाल ने भारत के लिम्पियाधूरा, लिपुलेख और कालापानी को अपना बता दिया है. बॉर्डर के इस इलाके में दोनों मुल्कों के बीच इसके बाद तल्खी भी बढ़ी है. पिथौरागढ़ जिले की बॉर्डर तहसील धारचूला के एसडीएम अनिल कुमार शुक्ला ने आशंका जताई है कि कुछ नेपाली संगठन मीडिया में सुर्खियां बटोरने के लिए भारत के लिम्पियाधूरा, लिपुलेख और कालापानी में अवैध घुसपैठ की फिराक में है.

कभी भी आ-जा सकते हैं नेपाली
इस बारे में एसडीएम शुक्ला ने एक पत्र नेपाल के दार्चुला जिला के प्रमुख जिला अधिकारी को भी लिखा है. पत्र का जवाब नेपाल के अधिकारियों ने कुछ ऐसा दिया है कि हर कोई हैरान है. नेपाल के दार्चुला ज़िले के सहायक प्रमुख ज़िला अधिकारी टेक सिंह कुंवर ने जवाब देते हुए कहा है कि नेपाल और ब्रिटिश ईस्ट इंडिया कंपनी के बीच 1816 में सुगौली संधि हुई थी. इसके मुताबिक लिम्पियाधूरा, कालापानी और लिपुलेख नेपाल का है. ऐसे में नेपाल के लोग अपनी ही जमीन पर अवैध घुसपैठ कैसे कर सकते हैं.

इसके साथ ही नेपाली अधिकारी का कहना है कि कालापानी, लिम्पियाधुरा और लिपुलेख में नेपाली नागरिकों की आवाजाही सामान्य बात है. नेपाली नागरिक अपनी ज़रूरत के लिहाज से इन तीनों इलाकों में आ-जा सकते हैं.



भारतीय है यह इलाका
बता दें कि करीब 380 वर्ग किलोमीटर के इस भू-भाग में भारतीय सुरक्षा बलों के साथ ही भारत के लोग सदियों से रहते आ रहे हैं लेकिन 8 मई को लिपुलेख सड़क के उद्घाटन के बाद नेपाल ने आक्रमण तरीके से लिम्पियाधुरा, कालापानी और लिपुलेख में अपना दावा ठोक दिया.

नेपाल का दावा है कि महाकाली नदी ही दोनों मुल्कों की विभाजन रेखा है. साथ ही नेपाल लिम्पियाधुरा से निकलने वाली कुटी-यांगती नदी को काली नदी मानता है. भारत भी महाकाली नदी को विभाजन रेखा तो मानता है लेकिन भारत काली नदी का उद्गम लिम्पियाधुरा के बजाय कालापानी मानता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading