पिथौरागढ़ में हाईवे पर यातायात बंद, 55 घंटे से लोग फंसे, राशन और सब्जियों की सप्लाई नहीं

पिथौरागढ़ में राष्ट्रीय राजमार्ग ठप. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Uttarakhand Weather : उत्तराखंड के पहाड़ी ज़िलों में मानसून की झमाझम बारिश से रास्ते ठप होने और यात्रियों के फंस जाने की खबरें हैं. चमोली के अलावा, पिथौरागढ़ ज़िले में भी लैंडस्लाइड के चलते भारी मुसीबत खड़ी हो रही है.

  • Share this:
    पिथौरागढ़. भारी बोल्डर गिरने और मलबा आने की समस्या बनी रहने के चलते घाट के पास नेशनल हाईवे पर यातायात ठप हो गया है. चमोली में भी बद्रीनाथ नेशनल हाईवे पर भूस्खलन की खबरों के बीच पिथौरागढ़ ज़िले में घाट पुलिस स्टेशन के पास भूस्खलन की खबर है, जिसके चलते नेशनल हाईवे ठप हुआ है. बताया जाता है कि इस हाईवे को बंद हुए करीब ढाई दिन हो चुके हैं और लोग परेशान हो रहे हैं. अस्ल में, गुरुवार को इस सड़क के चालू हो जाने की बात कही गई थी, लेकिन ऐसा हो नहीं सका इसलिए जो लोग इस उम्मीद में यहां पहुंचे थे, उन्हें मायूसी हाथ लगी.

    समाचार एजेंसी एएनआई ने घाट के पास पिथौरागढ़ नेशनल हाईवे के बंद होने की खबर दी है. वहीं, अन्य खबरों की मानें तो मानसरोवर यात्री इस हाईवे के बंद होने के चलते अटक गए हैं. कुछ लोग बेरीनाग से होकर पिथौरागढ़ पहुंचे यानी 110 किलोमीटर के सफर के लिए 6 घंटे अतिरिक्त लगाने पड़े. शुक्रवार दोपहर के बाद तक यातायात बहाल होने की उम्मीद जताई गई है, लेकिन इस बारे में अभी कोई अपडेट नहीं है.

    ये भी पढ़ें : बद्रीनाथ नेशनल हाईवे ठप, भारी बारिश में भूस्खलन, आज ज्‍यादा एहतियात बरतें



    पिथौरागढ़ के कई इलाकों में पिछले तीन दिनों से ताज़े फलों, सब्ज़ियों के साथ ही, राशन की चीज़ों व गैस सिलेंडरों की सप्लाई भी बुरी तरह प्रभावित हुई है. बार बार रास्ता खुलने की उम्मीद के चलते बार बार सड़क पर वाहनों की कतारें लगीं और लोग फंसे रहे. घाट-पिथौरागढ़, धारचूला लिपुलेख, कोटा मलोन, मदकोट बोना, मदकोट दारमा, रायाबजेता बंगापानी-जाराजिबली सड़कों पर यातायात प्रभावित बताया जा रहा है. वहीं, टनकपुर पिथौरागढ़ मार्ग पर आवाजाही शुरू हुई है, लेकिन खतरा बना हुआ है इसलिए लोगों को सतर्क रहने को कहा जा रहा है.

    ये भी पढ़ें : उत्तराखंड : कोरोना काल में साइबर क्राइम हुआ दोगुना! 3 साल में 4 गुना बढ़े मामले

    इससे पहले भारी बारिश के चलते पिथौरागढ़ समेत तीन पहाड़ी ज़िलों के लिए शुक्रवार के लिए मौसम विभाग ने रेड अलर्ट जारी किया था. बता दें कि पिथौरागढ़ सीमांत ज़िला है, जहां चीन की सीमा जुड़ती है. ज़िले में चीन की सीमा को जोड़ने वाली घट्टाबगड़-लिपुलेख सड़क पिछले आठ दिनों से बंद बताई जाती है. वहीं, ये भी खबरें हैं कि पिछले कुछ दिनों से हो रही भारी बारिश के चलते धौली, रामगंगा, काली और सरयू नदियां उफान पर हैं. मौसम विभाग ने यात्रियों से अलर्ट रहते हुए ही आवागमन की सलाह दी है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.