पुलिस के फेसबुक पेज पर बताया बहन का दर्द, 130 किमी का सफर कर महिला का कराया इलाज
Pithoragarh News in Hindi

पुलिस के फेसबुक पेज पर बताया बहन का दर्द, 130 किमी का सफर कर महिला का कराया इलाज
महिला ने सड़क में दिया बच्चे को जन्म (फाइल फोटो)

महिला के भाई कमलेश जोशी (Kamlesh Joshi) ने पुलिस के फेसबुक पेज (Facebook Page) पर अपनी बहन की परेशानी का ज़िक्र करते हुए लिखा था कि उसकी बहन प्रेग्नेंट है और पिछले 15 दिनों से वो पेट के दर्द से परेशान है.

  • Share this:
पिथौरागढ़. आज के दौर में सोशल मीडिया (Social Media) के जरिए लोगों की दिक्कतों से आसानी से रूबरू हुआ जा सकता है. पिथौरागढ़ (Pithoragarh) के मुनस्यारी में रहने वाली एक प्रेग्नेंट महिला (Pregnant Woman) के लिए पुलिस का फेसबुक पेज (Facebook Page) उस वक़्त मददगार साबित हुआ, जब वह 15 दिन से पेट दर्द से कराह रही थी. असल में महिला के भाई कमलेश जोशी (Kamlesh Joshi) ने पुलिस के फेसबुक पेज पर अपनी बहन की परेशानी का ज़िक्र करते हुए लिखा था कि उसकी बहन प्रेग्नेंट है और पिछले 15 दिनों से वो पेट के दर्द से परेशान है.

कमलेश जोशी ने पुलिस के फेसबुक पेज पर लिखा था कि मुनस्यारी में अल्ट्रासाउंड की व्यवस्था नही है और लॉकडाउन के चलते उसे मुख्यालय लाना भी कठिन है. अगर ले भी आएं तो सभी अल्ट्रासाउंड केंद्र बंद हैं. कमलेश की टिप्पणी पर नजर पड़ते ही पिथौरागढ़ पुलिस एक्टिव हुई और महिला को मुनस्यारी से 130 किलोमीटर दूर मुख्यालय लाया गया. सीओ आरएस रौतेला ने महिला का पहले ज़िला महिला अस्पताल में चेकअप करवाया और वहाँ अल्ट्रासाउंड नही होने पर प्राइवेट हॉस्पिटल में अल्ट्रासाउंड कराया गया.

लोगों की मदद के लिए सोशल मीडिया सेल
जिसके बाद महिला का हॉस्पिटल में इलाज चल रहा है. पिथौरागढ़ की एसपी प्रीति प्रियदर्शिनी का कहना है कि लॉकडाउन में लोगों को कई तरह की दिक्कतें उठानी पड़ रही है, जिसे देखते हुए मीडिया सेल को हर वक़्त एक्टिव मोड़ में रहने के निर्देश दिए गए हैं. अगर कोई भी जरूरतमंद किसी भी माध्यम से पुलिस से मदद मांगता है तो विभाग हर समय संभव मदद कर रहा है.



पुलिस की कोशिश लोगों तक पहुंचे दवा


चीन और नेपाल सीमा से सटा पिथौरागढ़ जिला पूरी तरह पहाड़ी तो है ही, साथ ये भौगोलिक रूप से भी विषमताओं से घिरा है. ऐसे में आम दिनों में भी यहां के लोगों को स्वास्थ्य सेवाओं के लिए खासी मशक्कत करनी पड़ती है. लॉकडाउन के दौरान पुलिस की ये भी कोशिश है कि अतिदुर्गम इलाकों में रहने वालों को अगर दवाईयों की भी जरूरत है तो वो भी मुहैय्या कराई जाए.


यह भी पढ़ें: 


सोनापानी में फंसे अभिनेता दीपक डोबरियाल, बोले- स्‍वर्ग में ले रहा हूं लॉकडाउन का आनंद

उत्‍तराखंड पुलिस ने इस सिपाही अनूठी पहल, हर सिपाही एक परिवार को ले रहा है गोद
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading