होम /न्यूज /उत्तराखंड /Pithoragarh: 180 फुट लंबा वैली ब्रिज टूटा, चीन बॉर्डर के नजदीक बसे कुटी गांव की बढ़ी टेंशन

Pithoragarh: 180 फुट लंबा वैली ब्रिज टूटा, चीन बॉर्डर के नजदीक बसे कुटी गांव की बढ़ी टेंशन

पिथौरागढ़ में चीन सीमा लगे नहल गाड़ में वैली ब्रिज टूट गया है.

पिथौरागढ़ में चीन सीमा लगे नहल गाड़ में वैली ब्रिज टूट गया है.

Pithoragarh News: पिथौरागढ़ में चीन सीमा से लगे आदि कैलाश मोटर मार्ग में नाबी से कुटी के बीच नहल गाड़ में वैली ब्रिज टूट ...अधिक पढ़ें

रिपोर्ट- हिमांशू जोशी

पिथौरागढ़. उत्तराखंड के पिथौरागढ़ में चीन सीमा से लगे आदि कैलाश मोटर मार्ग में नाबी से कुटी के बीच नहल गाड़ में बीआरओ के द्वारा बनाया गया वैली ब्रिज टूट गया है. यह वैली ब्रिज 180 फुट है. इस वजह से चीन सीमा के नजदीक बसे पिथौरागढ़ के अंतिम गांव कुटी और सेना की अंतिम चौकियों का यातायात संपर्क टूट गया है. दरअसल इस मार्ग पर बीआरओ का खाली ट्रक जा रहा था, लेकिन भार के चलते वह बीच रास्‍त में अचानक पुल के साथ नीचे गिर गया. फिलहाल किसी के हताहत होने की कोई जानकारी नहीं है.

हालांकि आदि कैलाश यात्रा शुरू है और यहां पर कोई बड़ा हादसा भी हो सकता था, लेकिन समय रहते कमजोर पुल के गिरने से सभी को स्थिति का पता चला है. बीआरओ पुल के गिरने की जांच कर रही है. साथ ही इन इलाकों को जोड़ने के लिए वैकल्पिक व्यवस्था भी की जा रही है.

यहां है वैली ब्रिज पुल
नहल गाड़ गुंजी से आदि कैलाश जाने वाले रास्ते पर नाबी गांव के बाद यह वैली ब्रिज पड़ता है जहां पर यह घटना हुई है. वैकल्पिक मार्ग जल्द नहीं बनता है तो आदि कैलाश दर्शन को आये यात्रियों को नाबी से आगे की यात्रा पैदल ही करनी पड़ेगी.

बीआरओ के कमांडर कर्नल हरीश कोटनाला ने बताया कि शुरुआती तौर पर बारिश के कारण सपोर्ट अनस्टेबल होने से संभावित दुर्घटना हुई है. आगे जांच के बाद ही कारण स्पष्ट हो पाएंगे. जबकि यातायात को सुचारू करने के लिए कार्य किया जा रहा है. वहीं, पिथौरागढ़ के उप जिलाधिकारी नंदन कुमार ने कहा कि बीआरओ के अधिकारियों को जांच रिपोर्ट के लिए निर्देशित किया गया है. उनके द्वारा बताया गया है कि जल्द ही यातायात को वैकल्पिक तौर पर सुचारू कर दिया जाएगा.

Tags: India china border news, Pithoragarh news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें