Home /News /uttarakhand /

संवासिनियों की सेहत और यौन शोषण मामले पर गरमाई सियासत

संवासिनियों की सेहत और यौन शोषण मामले पर गरमाई सियासत

    संवासिनियों की सेहत को लेकर अब उत्‍तराखंड की राजधानी देहरादून में सियासत गरमाने लगी है. भाजपा जहां नारी निकेतन में हुए यौन शोषण के मामले और दो संवासिनियों की मौत के मामलों को लेकर सरकार को घरने की तैयार कर रही है.

    वहीं, कांग्रेस पार्टी ने विपक्ष को मुंह तोड़ जवाब देने की ठान ली है कांग्रेस पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्यय ने दून हॉस्पिटल पहुंचकर संवासिनियों का हाल जाना. इस मौके पर कई कार्यकर्ता भी मौजूद रहे. पार्टी का कहना है कि संवासिनियों के स्वास्थ्य को लेकर सरकार काफी गंभीर है. संवासिनियों का हॉस्पिटल में बेहतर से बेहतर इलाज किया जा रहा है.

    उनका कहना है कि यह भी कोशिश की जा रही है कि संवासिनियों के इलाज के लिए एक अलग से हॉस्पिटल की व्यवस्था की जाए, जिससे मानसिक रुप से बीमार संवासिनियों का वहां बेहतर इलाज कराया जा सके. गौरतलब है कि दून हॉस्पिटल में आठ संवासिनियों को दून हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था, जहां उनका इलाज चल रहा है. डॉक्टर्स का कहना है कि सभी मरीजों के मेडिकल टेस्ट भी कराए जा रहे हैं जिससे उनकी बीमारियों के बारे में सही जानकारी ली जा सके.

    फिलहाल नारी निकेतन को लेकर एक फिर भाजपा और कांग्रेस आमने सामने आ गए हैं. भाजपा जहां सरकार पर संवासिनियों की देखरेख में लापरवाही का आरोप लगा रही है, वहीं कांग्रेस पार्टी का कहना है कि यह जो समस्या सबके सामने आ रही है यह कोई आज की समस्या नहीं है. यह पहले से नारी निकेतन में समस्या रही है. सरकार नारी निकेतन की अव्यवस्था को हर संभव दूर करने कोशिश में लगी है.

    नारी निकेतन की मानसिक रुप से बीमार संवासिनियों को हरिद्वार भी शिफ्ट करने की कोशिश की जा रही है, जिससे उनका बेहतर से बेहतर इलाज और देखभाल हो सके. फिलहाल जिस तरह राजधानी में नारी निकेतन को लेकर सभी पार्टियां बयानबाजी कर रही हैं. इससे साफ है कि वे अपनी सियासी रोटियां सेंक रही है, लेकिनर नारी निकेतन की बुनियादी समस्याओं को दूर करने के लिए कोई भी आवाज नहीं उठा रहा है, जिससे संवासिनियों को दो चार होना पड़ता है.

    Tags: Congress, Uttarakhand news

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर