लाइव टीवी

हरक सिह का विवादों से है पुराना नाता, ये हैं उनसे जुड़े चर्चित मामले
Bageshwar News in Hindi

Mukesh Yadav | ETV UP/Uttarakhand
Updated: July 30, 2016, 2:45 PM IST
हरक सिह का विवादों से है पुराना नाता, ये हैं उनसे जुड़े चर्चित मामले
Harak Singh Rawat (File: Photo)

कांग्रेस में बगावत कर भाजपा में शामिल हुए हरक सिंह रावत की मुश्किलें बढ़ना अब तय है. एक बार फिर हरक सिंह के खिलाफ दिल्ली में दुष्कर्म का मामला दर्ज हुआ है. कांग्रेस में बगावत कर भाजपा में शामिल हुए हरक सिंह रावत पर शुक्रवार रात दिल्ली के सफदरजंग थाने में यह मामला दर्ज किया गया है.

  • Share this:
कांग्रेस में बगावत कर भाजपा में शामिल हुए हरक सिंह रावत की मुश्किलें बढ़ना अब तय है. एक बार फिर हरक सिंह के खिलाफ दिल्ली में दुष्कर्म का मामला दर्ज हुआ है. कांग्रेस में बगावत कर भाजपा में शामिल हुए हरक सिंह रावत पर शुक्रवार रात दिल्ली के सफदरजंग थाने में यह मामला दर्ज किया गया है.

पुलिस के मुताबिक उत्तराखंड के पूर्व मंत्री हरक सिंह रावत पर सफदरजंग थाने में 32 वर्षीय युवती ने दुष्कर्म करने का आरोप लगाया है. मामला दर्ज करने के बाद दिल्ली पुलिस मामले की जांच में जुटी है. दिल्ली पुलिस सूत्रों के मुताबिक पुलिस बहुत जल्द हरक सिंह रावत से इस मामले में पूछताछ करने की तैयारी कर रही है.

दरअसल हरक सिंह रावत का विवादों से पुराना नाता रहा है. 2003 का चर्चित जैनी प्रकरण हो या 2014 में मेरठ की रहने वाली महिला के कथित उत्पीड़न का मामला हो, हरक सिंह का नाम ऐसे विवादों से जुड़ा रहा है. इस मामले को जैसे-तैसे रफादफा करने के आरोप भी हरक सिंह पर लगे थे.

2003 चर्चित जैनी प्रकरण: 2003 में एनडी तिवारी की सरकार में भी हरक सिंह को चर्चित जैनी प्रकरण की वजह से मंत्री पद गंवाना पड़ा था. उस वक्त जैनी नाम की महिला ने एक बच्चे को जन्म दिया था. जैनी ने हरक सिंह रावत पर आरोप लगाते हुए कहा था कि हरक सिंह रावत ही उसके बच्चे के पिता हैं. जैनी ने आरोप लगाया था कि हरक सिंह ने काम दिलाने के नाम पर उसका शारीरिक शोषण किया है. इस मामले में डीएनए टेस्ट भी कराया गया था, लेकिन डीएनए रिपोर्ट कभी सार्वजनिक नहीं की गई. बाद में जैसे-तैसे यह मामला रफादफा कर दिया गया.



2012 में जूते की नोक पर मंत्री पद: उत्तराखंड में 2012 के विधानसभा में बहुमत मिलने के बाद हरक सिंह ने कहा कि वे मंत्री पद को जूते की नोक पर रखते हैं. उनके इस बयान के बाद काफी विवाद हुआ था. जाहिर है उस वक्त हरक सिंह मुख्यमंत्री बनने के ख्वाब भी देख रहे थे. इसके बाद विजय बहुगुणा मुख्यमंत्री बने और हरक सिंह को मंत्री पद स्वीकारना पड़ा.

2013 में लगा ऑफिस ऑफ प्रोफिट का आरोप: बहुगुणा सरकार में ही हरक सिंह रावत पर ऑफिस ऑफ प्रोफिट का आरोप का आरोप लगा. कईं दिनों तक यह मामला अखबारों की सुर्खियां बना. हरक सिंह विपक्ष के निशाने पर रहे. तब विपक्षी भाजपा ने हरक सिंह का इस्तीफा मांगा था. जैसे तैसे तत्कालीन सीएम विजय बहुगुणा ने इस विवाद को शांत किया.

2014 मेरठ की महिला ने दर्ज कराया था मामला: 2013 में मेरठ की रहने वाली एक महिला ने हरक सिंह रावत पर शरीरिक शोषण का आरोप लगाया था. उस वक्त हरक सिंह रावत, विजय बहुगुणा सरकार में मंत्री थे. फरवरी 2014 में मेरठ की रहने वाली महिला ने दिल्ली के सफदरजंग थाने में ही हरक सिंह के खिलाफ दुष्कर्म का मामला दर्ज कराया था. बाद में दोनों पक्षों की कथित सहमति के बाद यह मामला रफादफा हो गया था.

मार्च 2016 में कांग्रेस से बगावत: 18 मार्च को उत्तराखंड विधानसभा में हरीश रावत सरकार के खिलाफ बगावत का झंडा बुलंद करने वाले 9 बागियों में हरक सिंह रावत ने अग्रणी भूमिका निभाई. इसके बाद हरीश रावत सरकार को हटाकर राज्य में राष्ट्रपति शासन तक लगा. सुप्रीम कोर्ट के हस्तखेप के बाद हरीश रावत सरकार लौट आई तो हरक सिंह समेत सभी बागियों ने भाजपा ज्वॉइन की.

26 मार्च 2016 हरीश रावत का स्टिंग: सरकार बचाने के लिए विधायकों की खरीद फरोख्त से जुड़े हरीश रावत के कथित स्टिंग की सीडी बागियों ने दिल्ली में जारी की थी. विधायक मदन बिष्ट से जुड़े एक अन्य के पीछे भी हरक सिंह रावत की ही भूमिका मानी जाती रही है.

29 जुलाई 2016 को दुष्कर्म का मामला दर्ज: ताजा मामला दिल्ली के सफदरजंग थाने का है, जहां एक महिला ने हरक सिंह पर दुष्कर्म का मामला दर्ज कराया है. बताया जा रहा है कि मेरठ की रहने वाली इसी महिला ने 2014 में सफदरजंग थाने में ही हरक सिंह के खिलाफ मामला दर्ज कराया था. तब दोनों पक्षों की सहमति के बाद महिला ने मामला वापस ले लिया था. अब नये सिरे से महिला हरक सिंह के खिलाफ दुष्कर्म का मामला दर्ज कराया है.

2014 में जब हरक सिंह रावत पर दुष्कर्म का मामला दर्ज किया गया था तो भाजपा नेताओं ने मंत्री पद से रावत के इस्तीफे की मांग की थी. अब वक्त बदल चुका है. हरक सिंह रावत भाजपा में शामिल हो चुके हैं. एक बार फिर उन पर दुष्कर्म का आरोप है. अब देखना होगा कि भाजपा इस पर क्या स्टैंड लेती है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बागेश्‍वर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 30, 2016, 2:45 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर