Home /News /uttarakhand /

उत्तराखंड में इस तरह होगी प्रदूषण की रियल टाइम मॉनिटरिंग

उत्तराखंड में इस तरह होगी प्रदूषण की रियल टाइम मॉनिटरिंग

रियल टाइम मॉनिटरिंग सिस्टम

रियल टाइम मॉनिटरिंग सिस्टम

उत्तराखंड में जल और वायु प्रदूषण के स्तर की सटीक जानकारी के लिए रियल टाइम मॉनिटरिंग सिस्टम लगा दिए गए हैं. राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने गंगा और यमुना नदी समेत पचास जगहों पर ऐसे सिस्टम लगाए हैं. इसके जरिए राज्य और केंद्र की प्रदूषण नियंत्रण इकाइयों को प्रदूषण का ऑनलाइन डाटा मिलता रहेगा.

अधिक पढ़ें ...
उत्तराखंड में जल और वायु प्रदूषण के स्तर की सटीक जानकारी के लिए रियल टाइम मॉनिटरिंग सिस्टम लगा दिए गए हैं. राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने गंगा और यमुना नदी समेत पचास जगहों पर ऐसे सिस्टम लगाए हैं. इसके जरिए राज्य और केंद्र की प्रदूषण नियंत्रण इकाइयों को प्रदूषण का ऑनलाइन डाटा मिलता रहेगा. इस व्यवस्था से प्रदूषण का स्तर जांचने और उस पर निगरानी रखना काफी आसान हो जाएगा. वहीं प्रदूषण कारी उद्योगों और अन्य कारकों का तुरंत पता भी लगाया जा सकेगा.

समय पर स्थिति का पता लगने पर प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड त्वरित कार्रवाई के कदम भी उठा सकता है. उत्तराखंड में मैदानी इलाकों में औद्योगिक प्रदूषण के साथ ही नदियों में सिवेज की समस्या रहती है. हाल ही में रियल टाइम मॉनीटरिंग सिस्टम के जरिए मिले डाटा से पता लगाया गया है कि हरिद्वार में गंगा नदी सीवेज के कारण ही सबसे ज्यादा दूषित हो रही है.

यहां रोजाना दो एमएलडी यानी चार लाख लीटर सीवेज गंगा में प्रवाहित हो रहा है. जो हरिद्वार और इसके आस पास के इलाकों के कुल सीवेज का बीस फीसदी है. उत्तराखंड राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के सचिव विनोद सिंघल बताते हैं कि रियल टाइम मॉनीटरिंग से प्रदूषण का स्तर पता लगाना और इसके निंयत्रण के लिए कार्रवाई करना अब आसान हो गया है. इसके आधार पर ही कुछ प्रदूषणकारी इकाइयों को त्वरित नोटिस भी जारी किए गए हैं.

Tags: Uttarakhand news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर