Home /News /uttarakhand /

chardham yatra 2022 registration closed for gangotri yamunotri and kedarnath dham nodark

Chardham Yatra: गंगोत्री, यमुनोत्री और केदारनाथ के लिए श्रद्धालुओं का 3 जून तक कोटा पूरा, रजिस्‍ट्रेशन बंद

गंगोत्री, यमुनोत्री और केदारनाथ धाम के लिए श्रद्धालुओं की निर्धारित संख्या का कोटा 3 जून तक के लिए पूरा हो गया है.

गंगोत्री, यमुनोत्री और केदारनाथ धाम के लिए श्रद्धालुओं की निर्धारित संख्या का कोटा 3 जून तक के लिए पूरा हो गया है.

Chardham Yatra 2022: उत्तराखंड के चारधामों में से तीन, गंगोत्री, यमुनोत्री और केदारनाथ धाम के लिए श्रद्धालुओं की निर्धारित संख्या का कोटा 3 जून तक के लिए पूरा हो गया है. इसके साथ इन तीनों जगहों के लिए रजिस्‍ट्रेशन बंद कर दिए गए हैं.

अधिक पढ़ें ...

ऋषिकेश. उत्तराखंड के चारधामों में से तीन, गंगोत्री, यमुनोत्री और केदारनाथ हेतु तीर्थयात्रियों की निर्धारित संख्या का कोटा 3 जून तक के लिए पूरा हो गया है. इस वजह से इन जगहों के लिए रजिस्‍ट्रेशन फिलहाल बंद कर दिया गया है. इस बीच केवल बदरीनाथ के लिए ही श्रद्धालुओं का रजिस्‍ट्रेशन जारी है. इस आशय की जानकारी यात्रियों को गुरुवार को ऋषिकेश स्थित आईएसबीटी पर उत्तराखंड राज्य आपदा मोचन बल (एसडीआरएफ) द्वारा सार्वजनिक घोषणा प्रणाली के जरिये दी गयी.

मौके पर मौजूद एसडीआरएफ कर्मियों ने बताया कि बदरीनाथ के अतिरिक्त अन्य तीनों धामों के लिये प्रतिदिन के लिए निर्धारित यात्रियों की संख्या का ऑनलाइन एवं ऑफलाइन कोटा 3 जून तक के लिए भर गया है, इसलिए  रजिस्‍ट्रेशन फिलहाल रोक दिया गया है. हालांकि श्रद्धालुओं की भीड़ लगातार बनी हुई है. आईएसबीटी से हजारों श्रद्धालु रोजाना यात्रा को प्रस्थान कर रहे हैं, लेकिन जितने लोग रवाना हो रहे हैं, उतने ही फिर आईएसबीटी पर पहुंच रहे हैं.

इस बीच देहरादून के जिलाधिकारी आर राजेश कुमार ने कहा कि यह सब श्रद्धालुओं की सुविधाओं के लिए ही किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि चारों धामों में निर्धारित संख्या में यात्रियों को भेजने से वे बगैर धक्का-मुक्की के भगवान के दर्शन कर रहे हैं और सुखद अनुभव के साथ लौट रहे हैं.

भगवान के आराम से हो रहे दर्शन
चारधाम यात्रा से लौटे मध्य प्रदेश के रतलाम के करीब 70 श्रद्धालुओं के एक दल के मुखिया एस के शुक्ला ने बताया कि सभी धामों में बहुत आराम से भगवान के दर्शन हुए और उन्हें कहीं भीड़ नहीं मिली. इसके साथ उन्होंने सरकार के इंतजामों की सराहना की. इस बीच हरिद्वार में जगह न मिलने से तीर्थयात्री और पर्यटक ऋषिकेश का रुख कर रहे हैं जिसकी वजह से ऋषिकेश और आसपास के स्थानों पर भीड़ का दबाव बढ़ता जा रहा है.

इस अप्रत्याशित स्थिति से निपटने के लिए पुलिस ने दिल्ली, उत्तर प्रदेश, हरियाणा और हिमाचल प्रदेश की तरफ से प्रदेश में आने वाले वाहनों के लिए रूट प्लान जारी किया है, जिसे देहरादून, हरिद्वार, पौड़ी एवं टिहरी जिलों की पुलिस को लागू करना है. इस विशेष यातायात योजना को ऋषिकेश एवं मुनिकीरेती के पुलिस नियंत्रण कक्ष से संचालित किया जाएगा.

Tags: Badrinath Dham, Chardham Yatra, Kedarnath Dham, Uttarakhand news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर