Home /News /uttarakhand /

रोडवेज कर्मियों ने दी सात जुलाई से आंदोलन की चेतवानी

रोडवेज कर्मियों ने दी सात जुलाई से आंदोलन की चेतवानी

रोडवेज कर्मियों ने विभिन्न मांगों को लेकर आंदोलन करने की चेतावनी दी है. कर्मचारियों का कहना है कि शासन के अधिकारियों को बार-बार चेताने के बाद भी कर्मचारियों की मांगों को पूरा करने के लिए कोई ठोस कदम नहीं उठा रहे हैं. ऐसे में मजबूर होकर कर्मचारियों को आंदोलन का रुख अपनाना पड़ रहा है.

रोडवेज कर्मियों ने विभिन्न मांगों को लेकर आंदोलन करने की चेतावनी दी है. कर्मचारियों का कहना है कि शासन के अधिकारियों को बार-बार चेताने के बाद भी कर्मचारियों की मांगों को पूरा करने के लिए कोई ठोस कदम नहीं उठा रहे हैं. ऐसे में मजबूर होकर कर्मचारियों को आंदोलन का रुख अपनाना पड़ रहा है.

रोडवेज कर्मियों ने विभिन्न मांगों को लेकर आंदोलन करने की चेतावनी दी है. कर्मचारियों का कहना है कि शासन के अधिकारियों को बार-बार चेताने के बाद भी कर्मचारियों की मांगों को पूरा करने के लिए कोई ठोस कदम नहीं उठा रहे हैं. ऐसे में मजबूर होकर कर्मचारियों को आंदोलन का रुख अपनाना पड़ रहा है.

अधिक पढ़ें ...
    रोडवेज कर्मियों ने विभिन्न मांगों को लेकर आंदोलन करने की चेतावनी दी है. कर्मचारियों का कहना है कि शासन के अधिकारियों को बार-बार चेताने के बाद भी कर्मचारियों की मांगों को पूरा करने के लिए कोई ठोस कदम नहीं उठा रहे हैं. ऐसे में मजबूर होकर कर्मचारियों को आंदोलन का रुख अपनाना पड़ रहा है.

    कर्मचारियों का कहना है कि वेतन विसंगति, प्रमोशन के साथ कई विभागीय मामलें है, जिसकों लेकर शासन के अधिकारी कोई ठोस पहल नहीं कर रहे हैं.
    जबकि कर्मचारी पूरी इमानदारी के साथ परिवहन निगम के लिए काम कर रहे हैं.

    उनका कहना है कि अगर छह जुलाई तक शासन ने उनकी मांगों के निस्तारण के लिए कोई ठोस पहल नहीं की वे 7 जुलाई से आन्दोलन करेंगे. उनका कहना है कि इसके लिए परिवहन निगम के प्रंबधक को भी लिखित में पत्र भेजा जा चुका है.

    दरअसल प्रदेश में अभी यात्रियों के जाने का सिलसिला जारी है ऐसे में अगर रोडवेज के कर्मचारी आन्दोलन करते हैं तो यात्रियों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है.

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर