बाबा केदार की उत्सव डोली आज पहुंचेगी केदारनाथ, 29 अप्रैल को खुलेंगे कपाट

इस बार बाबा की डोली यात्रा में वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए देशभर में लागू लॉकडाउन का पालन किया गया.
इस बार बाबा की डोली यात्रा में वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए देशभर में लागू लॉकडाउन का पालन किया गया.

बाबा केदार (Baba Kedarnath) की पंचमुखी उत्सव डोली 27 अप्रैल गौरीकुंड (Gaurikund) से केदारनाथ धाम पहुंच जाएगी. 29 अप्रैल को बाबा केदार के कपाट खुलते वक्त मुख्य पुजारी व उत्सव डोली के साथ गए चुनिंदा हक-हकूक धारी ही मौजूद रहेंगे.

  • Share this:
रुद्रप्रयाग. बाबा केदार (Baba Kedarnath) की पंचमुखी उत्सव डोली 27 अप्रैल गौरीकुंड (Gaurikund) से केदारनाथ धाम पहुंच जाएगी. 27 अप्रैल की रात्रि और 28 अप्रैल को केदारनाथ धाम में ही बाबा केदार की पंचमुखी डोली विश्राम व कपाट खुलने की प्रतिक्षा करेगी. 29 अप्रैल को बाबा केदार के कपाट निर्धारित शुभ मुर्हूत मेष लग्न में सुबह 6 बजकर 10 मिनट पर खुल जाएंगे. 29 अप्रैल को बाबा केदार के कपाट खुलते वक्त मुख्य पुजारी (Main Priest) व उत्सव डोली के साथ गए चुनिंदा हक-हकूक धारी ही मौजूद रहेंगे.

कपाट खोलते वक्त पुजारी और वेदपाठी ही रहेंगे मौजूद

इस बार बाबा की डोली यात्रा में वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए देशभर में लागू लॉकडाउन का पालन किया गया. इस साल केदारनाथ यात्रा के लिए डोली प्रस्थान के सभी समारोह का संचालन सूक्ष्म रूप से किया जा रहा है. बाबा की डोली के धाम प्रस्थान व कपाटोद्घाटन के सभी समारोह में गिनती के लोग ही शामिल हो सकेंगे. इस बार डोली यात्रा और कपाट खोलने के लिए पुजारी और वेदपाठी ही शामिल हो रहे हैं.



इस साल केदारनाथ यात्रा के लिए डोली प्रस्थान के सभी समारोह का संचालन सूक्ष्म रूप से किया जा रहा है.

29 अप्रैल को खुलेंगे बाबा के कपाट

बाबा केदार की पंचमुखी चलविग्रह उत्सव डोली 27 अप्रैल केदारनाथ धाम पहुंच जाएगी. 26 अप्रैल को उत्सव डोली का रात्री प्रवास गौरामाई मंदिर गौरीकुण्ड में हुआ और सुबह ही उत्सव डोली बाबा केदार के लिए रवाना हो गयी. 27 अप्रैल को ही उत्सव डोली केदारनाथ धाम पहुंच जाएगी. 29 अप्रैल को प्रातः 6 बजकर 10 मिनट पर मेष लग्न में वैदिक मंत्रोच्चारण के साथ बाबा केदारनाथ मंदिर के कपाट खोले जाएंगे.

केदारनाथ के कपाट जहां 29 अप्रैल को खुलेंगे. वहीं बदरीनाथ के कपाट 15 मई को खुलेंगे. सर्दियों में भीषण बर्फबारी और ठंड की चपेट में रहने के कारण चारों धामों के कपाट श्रद्धालुओं के लिए बंद कर दिए जाते हैं जो अगले साल अप्रैल-मई में फिर खोल दिए जाते हैं.

ये भी पढ़ें: Lockdown: उत्तराखंड में 62 हजार वाहन चालक परिवारों पर रोटी का संकट!

27 अप्रैल तक आंगनबाड़ी वर्कर्स और भोजन माताओं को मिल जाएगा मार्च का वेतन

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज