ओंकारेश्वर मंदिर में एक दर्जन से ज्यादा ताम्रपत्र मिले, मंदिर समिति को साजिश की आशंका

मंदिर समिति के कर्मचारियों ने आज तक मंदिर में इन ताम्रपत्रों को पहले कभी नहीं देखा था. लेकिन अब मंदिर के अंदर रहस्मयमय ढंग से ताम्रपत्र मिल रहे हैं.

Shelendra Rawat | News18 Uttarakhand
Updated: September 5, 2019, 5:31 PM IST
ओंकारेश्वर मंदिर में एक दर्जन से ज्यादा ताम्रपत्र मिले, मंदिर समिति को साजिश की आशंका
रुद्रप्रयाग- ऊखीमठ के ओंकारेश्वर मंदिर में एक दर्जन से ज्यादा ताम्रपत्र मिले
Shelendra Rawat
Shelendra Rawat | News18 Uttarakhand
Updated: September 5, 2019, 5:31 PM IST
रुद्रप्रयाग. बाबा केदारनाथ (Kedarnath) के शीतकालीन गद्दी स्थल ओंकारेश्वर मंदिर (Omkareshwar Temple ) ऊखीमठ (Ukhimath) में एक दर्जन से ज्यादा ताम्रपत्र (Tamrapatra) मिलने से बद्री-केदार मंदिर समिति (Badri Kedar Temple Committee) में हड़कंप मच गया है.. इसमें बड़ी बात ये है कि मंदिर समिति के कर्मचारियों ने आज तक मंदिर में इन ताम्रपत्रों को पहले कभी नहीं देखा था. लेकिन अब मंदिर के अंदर रहस्मयमय ढंग से ताम्रपत्र मिल रहे हैं. मंदिर में बाबा केदार के गद्दी के नीचे, चंडिका मंदिर, ऊषा-अनिरूद्ध विवाह स्थल समेत कई जगहों पर ताम्रपत्र मिले हैं.

पुरातत्व विभाग जांच करवाएगा

इस पूरे प्रकरण के बाद मंदिर समिति इन ताम्रपत्रों को बड़ी साजिश बता कर पुरातत्व विभाग (Archeology department) से जांच करवाने की बात कर ही है.



'अगर किसी तरह की साजिश होगी तो पुलिस में शिकायत दी जाएगी'

बद्री-केदार मंदिर समिति के उपाध्यक्ष अशोक खत्री का कहना है कि अगर इसमें किसी तरह की साजिश का पर्दाफाश होता है तो बद्री केदार मंदिर समिति पुलिस में शिकायत दर्ज कराएगी. आपको बता दें कि ताम्रपत्र तांबे की उस प्राचीन चादर के टुकड़े को कहते हैं जिसमें प्राचीन समय में ऐतिहासिक मंदिरों के इतिहास, हक-हकूक या जानकारियों के संबंध में अक्षर खुदवा कर लिखे जाते थे.

ये भी पढ़ें - उच्च हिमालय क्षेत्र में बारिश से बढ़ रहा है अलकनंदा का जलस्तर, प्रशास अलर्ट
Loading...

ये भी पढ़ें - हल्द्वानी में बुजुर्गों को पीठ पर लादकर पार कराई जा रही नदी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रुद्रप्रयाग से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 5, 2019, 5:22 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...