केदारनाथ यात्रियों का आरोप- टिकटें ब्लैक कर रही हैं हैली कंपनियां, ख़ामोश है प्रशासन

मेरठ के वकील रामकिशन बंसल के अनुसार मशीन में तीन से चार किलो वजन ज़्यादा दिखाया जा रहा है और ज़्यादा पैसा वसूला जा रहा है.

satendra bartwal | News18 Uttarakhand
Updated: May 18, 2018, 4:36 PM IST
केदारनाथ यात्रियों का आरोप- टिकटें ब्लैक कर रही हैं हैली कंपनियां, ख़ामोश है प्रशासन
हैलिकॉप्टर सेवा में ब्लैक टिकटिंग के आरोप लग रहे हैं और देश-विदेश से आने वाले श्रद्धालु उन्हें परेशान किए जाने का आरोप लगा रहे हैं.
satendra bartwal | News18 Uttarakhand
Updated: May 18, 2018, 4:36 PM IST
केदारनाथ यात्रा जैसे जैसे परवान चढ़ रही है उससे भी तेज़ी से धाम में हैली सेवा कंपनियों में बड़ा मुनाफ़ा कमाने की होड़ मच गई है. और इस होड़ में ये कंपनियां तमाम नियमों को ताक पर रखकर खुद ही टिकटों की ब्लैक कर रही हैं. यह सब हो रहा है प्रशासन की नाक के नीचे.

चार धाम यात्रा शुरू होने के बाद हैलीपैड संचालकों के विरोध और टेंडर में विरोधाभासों के बावजूद हैली सेवाएं भी शुरू हो गईं. हर साल की तरह इनपर ब्लैक टिकटिंग के भी आरोप लग रहे हैं और देश-विदेश से आने वाले श्रद्धालु खुद को परेशान किए जाने का आरोप लगा रहे हैं.

पुलिस प्रशासन ने एक हैली सेवा देने वाली एक कंपनी ग्लोबल वेक्ट्रा के मैनेजर को हिरासत में  लेकर पूछताछ कर रही है. यात्रियों से अधिक पैसा वसूलने वाली यूटियर कम्पनी के हैलिकॉप्टर को गुरुवार को केदारनाथ में करीब एक घंटे तक रोका गया लेकिन उसके बाद प्रशासन के कोई ठोस कार्रवाई नहीं की.

आर्यन कम्पनी द्वारा यात्रियों से अधिक वसूली के मामले में प्रशासन ने अब तक कोई कार्रवाई नहीं की है. जबकि यात्री लगातार इसकी शिकायत कर रहे हैं. यात्रियों का आरोप है कि 7300 रुपए प्रति यात्री किराए की जगह आर्यन ने यात्रियों से प्रति यात्री 11000 रुपए वसूले.

इसी तरह यूटियर कम्पनी का किराया 6700 रुपये प्रति व्यक्ति है लेकिन उसने यात्रियों से 10000 रुपए वसूले. यात्रियों ने वेटिंग मशीन पर भी सवाल खड़े किए. मेरठ से केदारनाथ यात्रा पर आए वकील रामकिशन बंसल ने कहा कि वजन करने वाली मशीन को भी यात्रियों से पैसे ऐंठने का औज़ार बनाया गया है. बंसल के अनुसार मशीन में तीन से चार किलो वजन ज़्यादा दिखाया जा रहा है और इसके आधार पर ज़्यादा पैसा वसूला जा रहा है.

देहरादून से केदारनाथ यात्रा पर पहुंचे मुकेश कुमार भट्ट ने भी इस बात की पुष्टि की. उन्होंने कहा कि उनका वजन चार किलो ज़्यादा आंका गया और इसके आधार पर उनसे फ़ालतू पैसे लिए गए.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर