आस्था के नाम पर जान से खिलवाड़... अलकनंदा के पुल के बाहर से ले गए देवी का निशान

रुद्रप्रयाग के ज़िलाधिकारी ने इन तस्वीरों का संज्ञान लिया है और पुलिस को कार्रवाई के निर्देश दिए हैं.

Shelendra Rawat | News18 Uttarakhand
Updated: April 17, 2019, 4:44 PM IST
Shelendra Rawat
Shelendra Rawat | News18 Uttarakhand
Updated: April 17, 2019, 4:44 PM IST
धर्म और आस्था के आगे भले ही हर तर्क की लोगों की नजर में कोई अहमियत नहीं होती लेकिन आस्था अगर जान जोखिम में डालने वाले स्टंट अगर बन जाए तो आस्था ही नहीं बल्कि कानून-व्यवस्था पर भी सवाल उठेंगे. न्यूज़ 18 आज आपको रुद्रप्रयाग से एक ऐसी तस्वीर दिखा रहा है जिसमें आपको फैसला करना है कि यह आस्था है या स्टंट.

VIDEO: चारधाम योजना: प्रभावितों ने मुआवजे व पुनर्वास की मांग को लेकर फिर शुरू किया आंदोलन



यह तस्वीर दो दिन पहले की है (देखें वीडियो). रतूड़ा की श्री चंडिका भवानी देवी की देवरा यात्रा रुद्रप्रयाग के जर्जर बेलनी पुल पर पहुंची तो देवी के निशान को भक्तों द्वारा सीधी तरह से पुल से न गुजारकर खतरनाक स्टंट करते हुए पुल के बाहर से गुज़ारा.

VIDEO: ….. तो अगले साल नहीं खुलेंगे यमुनोत्री धाम के कपाट!

इस दौरान कोई बड़ा हादसा भी हो सकता था क्योंकि यह पुल अलकनन्दा नदी के ऊपर बना है. पुल के दोनों छोरों पर पुलिस के जवानों की ड्यूटी लगी रहती है लेकिन आस्था के नाम पर हो रहे इस स्टंट को किसी ने नहीं रोका.

VIDEO: बीजेपी से नहीं बनेगा, कांग्रेस बनवाएगी राम मंदिर- हरीश रावत

 देवभूमि उत्तराखंड में हज़ारों देवी-देवताओं के निशान हैं. अगर लोग इस तरह से पुलों से गुजरेंगे तो कभी भी कोई बड़ा हादसा हो सकता है. बता दें कि भक्तों में मान्यता है कि देवी का निशान उस किसी भी रास्ते से नहीं गुज़रता जहां ऊपर कुछ रखा हो या छत हो. इसलिए पुल से सीधे निशान को नहीं गुजारा गया.

खतरे की जद में आया हरड़िया पुल

रुद्रप्रयाग के ज़िलाधिकारी ने इन तस्वीरों का संज्ञान लिया है और पुलिस को कार्रवाई के निर्देश दिए हैं. ज़िलाधिकारी ने कहा कि बेलनी पुल जर्जर हो चुका है और उसकी वजह नया पुल भी बनाया जाना है, ऐसे में यह स्टंट बेहद ख़तरनाक साबित हो सकता था.

VIDEO: नैनीताल की शान माल रोड के 125 मीटर हिस्से में जगह-जगह पड़ी दरारें, बढ़ा खतरा

Facebook पर उत्‍तराखंड के अपडेट पाने के लिए कृपया हमारा पेज Uttarakhand लाइक करें.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर

News18 चुनाव टूलबार

चुनाव टूलबार