लाइव टीवी

खुशखबरी! उत्तराखंड के इस एकमात्र जिले में COVID-19 का एक भी मामला नहीं
Rudraprayag News in Hindi

News18Hindi
Updated: May 23, 2020, 4:40 PM IST
खुशखबरी! उत्तराखंड के इस एकमात्र जिले में COVID-19 का एक भी मामला नहीं
उत्तराखण्ड में रूद्रप्रयाग एकमात्र पूर्णतः ग्रीन जोन जिला (फाइल फोटो)

अन्य राज्यों से उत्तराखंड आने वाले प्रवासियों में लगातार कोरोना संक्रमण के मामले सामने आ रहे हैं, लेकिन इस सब से इतर रूद्रप्रयाग जनपद पूरे प्रदेश में एकमात्र पूर्णतः ग्रीन जोन (Green Zone) जिला बना हुआ है

  • Share this:
रूद्रप्रयाग. प्रवासी लोगों के उत्तराखंड (Uttarakhand) पहुंचते ही कोरोना संक्रमण (COVID-19) का दौर पहाड़ों में भी शुरू हो गया है. टिहरी हो या उत्तरकाशी, चमोली हो या कुमाऊं... लगभग हर पहाड़ी जिले में कोरोना अपना कहर बरसा रहा है. प्रवासियों में लगातार कोरोना संक्रमण के मामले सामने आ रहे हैं, लेकिन इस सब से इतर रूद्रप्रयाग जनपद पूरे प्रदेश में एकमात्र पूर्णतः ग्रीन जोन (Green Zone) जिला बना हुआ है.

इससे अलग ये भी एक बड़ा पहलू है कि रूद्रप्रयाग में स्वास्थ्य विभाग और प्रशासन ने कोरोना संक्रमण से निपटने के लिए अन्य पहाड़ी जिलों की तुलना में बेहतर तैयारी की थी. जिले के माधवाश्रम अस्पताल को कोरोना समर्थित अलग से अस्पताल भी बनाया गया है. रूद्रप्रयाग जनपद में अबतक 15,642 से ज्यादा प्रवासी पहुंच चुके हैं, जिनकी जिले की सीमा में पहुचते ही स्क्रीनिंग कराई जा रही है, और उनके लक्षणों के अनुसार उन्हें होम या संस्थागत क्वारंटाइन किया जा रहा है. रूद्रप्रयाग जिला मुख्यालय के 600 से ज्यादा प्रवासियों को होटलों में संस्थागत क्वारंटाइन भी किया गया है.

पहाड़ी जिलों की अपेक्षा बेतर सैंपल रेट
कोरोना की दृष्टि से देखा जाए तो रूद्रप्रयाग जिले में एक और दिलचस्प पहलू यह भी है कि अन्य पहाड़ी जिलों की अपेक्षा सैंपल रेट यहां ज्यादा है. मुख्य चिकित्साधिकारी शंभू प्रसाद झा का कहना है कि जिले में सैंपल रेट 10 हजार व्यक्तियों में नौ है, जो कि अन्य पहाड़ी जिलों की अपेक्षा तुलनात्मक रूप से बेहतर है. देश में भी इस समय सैंपल रेट 10 हजार व्यक्तियों में 11 है. अब तक जिले से 214 सैंपल भेजे जा चुके हैं, जिसमें से 133 सैपलों की रिर्पोट नेगिटिव आ चुकी है. जबकि 133 सैंपलों की रिर्पोट आनी अभी बाकी है. रूद्रप्रयाग में भी अब सैंपल रेट बढ़ाया जा रहा है. सैंपल लेने के लिए चार नई टीमें बनाई गई हैं, जिन्होंने काम करना शुरू कर दिया है. प्रत्येक तीन सदस्यीय टीम में डॉक्टर, लैब टैकनीशियन और कंप्यूटर ऑपरेटर शामिल हैं.



ये भी पढ़ें: COVID-19: कॉर्बेट टाइगर रिजर्व के हाथियों को बचाने के लिए महावतों के बाहर निकलने पर रोक


News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रुद्रप्रयाग से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 23, 2020, 3:54 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading