केदारनाथ मंदिर में पूजा के दौरान पीएम मोदी ने एक कुंतल का घंटा किया भेट, जानिए इसकी मान्यता

प्रधानमंत्री मोदी कई कार्यक्रमों में शामिल होने के बाद केदारनाथ धाम के दौरान गुफ़ा ध्यान में पहुंचे और वहां ध्यान लगाया.

News18 Uttarakhand
Updated: May 19, 2019, 4:04 PM IST
News18 Uttarakhand
Updated: May 19, 2019, 4:04 PM IST
प्रधानमंत्री मोदी कई कार्यक्रमों में शामिल होने के बाद केदारनाथ धाम के दौरान ध्यान गुफ़ा में पहुंचे और वहां ध्यान लगाया. इससे पहले पीएम आरती में शामिल हुए. चार-पांच घंटे तक उन्होंने पूरे इलाक़े का निरीक्षण किया. बता दें कि पीएम मोदी चौथी बार केदारनाथ धाम दर्शन करने पहुंचे. शनिवार सुबह देहरादून स्थित जॉलीग्रांट हवाईअड्डे पर पहुंचने के बाद मोदी वहां से हेलीकॉप्टर से केदारनाथ पहुंचे. वे पहाड़ी टोपी के साथ ग्रे रंग का सूट और कमर पर भगवा रंग का गमछा पहने हुए थे.

हेलीकॉप्टर से उतरने के बाद मोदी सीधे मंदिर गए, जहां उन्होंने भगवान शिव की विशेष पूजा की. इस दौरान पीएम मोदी ने तीर्थ पुरोहितों से कुछ देर बातचीत की और बाद में वह मंदिर के गर्भगृह में पहुंचे, जहां उन्होंने 17 मिनट तक बाबा केदार की पूजा अर्चना की. इस दौरान पुजारियों ने प्रधानमंत्री को बाघम्बर भेंट किया, तो वहीं पीएम मोदी ने मंदिर में एक कुंतल वजन का घंटा अर्पित किया.



मंदिर की मान्यता है कि जब किसी व्यक्ति की मनोकामना पूरी हो जाती है, तो वह इसे मंदिर में चढ़ाते हैं. वही कुछ श्रद्धालु मन्नत मांगने के समय भी इसे चढ़ाते हैं. इसके बाद उन्होंने मंदिर की परिक्रमा की और परिक्रमा के बाद पीएम ने धाम में मौजूद तीर्थयात्रियों और स्थानीय लोगों का हाथ हिलाकर अभिवादन स्वीकार किया.

यह भी पढ़ें- केदारनाथ में व्यस्त सुबह के बाद PM मोदी ने पवित्र गुफा में लगाया ध्यान

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...