जानिए क्यों सतपाल महाराज ने कहा, पंचप्रयागों के भी दर्शन करते हुए चार धाम जाएं श्रद्धालु

इस बार सिर्फ़ एक महीने 3 दिन में 5,89,960 श्रद्धालु केदारनाथ पहुंच गए हैं. पिछले साल पूरे यात्राकाल में 7,32,214 श्रदालु पहुंचे थे.

News18 Uttarakhand
Updated: June 13, 2019, 3:18 PM IST
जानिए क्यों सतपाल महाराज ने कहा, पंचप्रयागों के भी दर्शन करते हुए चार धाम जाएं श्रद्धालु
केदारनाथ मंदिर में इस बार श्रद्धालुओं की आने का रिकॉर्ड टूट सकता है.
News18 Uttarakhand
Updated: June 13, 2019, 3:18 PM IST
उत्तराखंड सरकार पर्यटकों की भारी भीड़ से परेशान है. मुख्यमंत्री के बाद अब पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने भी पर्यटकों की भारी भीड़ को नियंत्रित करने की बात कही है. पर्यटन मंत्री ने केदारनाथ का दौरा भी किया और वहां उन्हें कई अव्यवस्थाएं भी मिलीं. इनमें से कुछ को उन्होंने तत्काल प्रभाव से दूर करने की बात कही और यह भी कहा कि धाम में व्यवस्थाएं बेहतर करने के लिए केंद्रीय पर्यटन मंत्री से भी बात हुई है.

टूट सकता है रिकॉर्ड 



बता दें कि केदारनाथ में इस बार श्रद्धालुओं की आमद का रिकॉर्ड टूट सकता है. इस बार सिर्फ़ एक महीने 3 दिन में 5,89,960 श्रद्धालु केदारनाथ पहुंच गए हैं. पिछले साल पूरे यात्राकाल में 7,32,214 श्रदालु पहुंचे थे. माना जा रहा है कि पिछली बार का रिकॉर्ड जल्द ही टूट जाएगा.

पर्यटकों की भारी भीड़ सिर्फ़ केदारनाथ में ही नहीं है. चारों धामों में इस बार पर्यटकों के आने के रिकॉर्ड टूट सकते हैं. सिर्फ़ चारों धाम ही नहीं मसूरी, नैनीताल जैसे लोकप्रिय टूरिस्ट डेस्टिनेशन्स में वीकेंड्स में लोगों को घंटों जाम से जूझना पड़ रहा है. पिछले रविवार को देहरादून के लच्छीवाला में ही 10000 लोग पहुंच गए थे और वहां भारी जाम की स्थिति बन गई थी.

पंच प्रयाग भी जाएं 

पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने ऐसी स्थितियों से बचने के लिए पर्यटकों को ज़्यादा जगह और रुक-रुककर जाने की सलाह दी है. केदारनाथ धाम पहुंचे सतपाल महाराज ने पर्यटकों को सलाह दी है कि पर्यटक तेज़ी से एक ही जगह न पहुंचें बल्कि रुकते हुए जाएं. उन्होंने कहा कि तीर्थयात्री अगर पंचप्रयागों में स्नान करने के साथ ही अन्य धार्मिक स्थलों में भी दर्शन करें और रुककर चारों धामों को जाएं तो उन्हें अच्छी व्यवस्था मिलेगी.

केदारनाथ में अव्यवस्थाओं को लेकर पर्यटन मंत्री ने कहा कि वह केन्द्रीय पर्यटन मंत्री से मिले हैं और उन्होनें कई प्रस्ताव केन्द्रीय पर्यटन मंत्री को दिए हैं जिन पर जल्द ही फ़ैसला होगा. उन्होंने यह भी कहा कि सबसे पहले केदारनाथ में महिला तीर्थयात्रीयों के लिए शौचालयों की व्यवस्था की जाएगी.
Loading...

(शैलेंद्र रावत के साथ राजेश डोबरियाल की रिपोर्ट)

Facebook पर उत्‍तराखंड के अपडेट पाने के लिए कृपया हमारा पेज Uttarakhand लाइक करें.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...